कार्यालय के आगे लिखा था कार्यलल, 50 में दो से भाग देना हो गया मुश्किल, ऑरेंज की स्पेलिंग नहीं जानते सरकारी स्कूल के प्रधानाध्यापक +

कार्यालय के आगे लिखा था कार्यलल,  50 में दो से भाग देना हो गया मुश्किल, ऑरेंज की स्पेलिंग नहीं जानते सरकारी स्कूल के प्रधानाध्यापक                                                                              +

NAUGACHHIA :  बिहार के सरकारी स्कूलों में किस प्रकार शिक्षा दी जा रही है, इसकी पोल तब खुल गई, जब  नवगछिया के प्रखंड विकास पदाधिकारी गोपाल कृष्णन ने कोसी पार पंचायत खैरपुर कदवा का निरीक्षण किया। निरीक्षण के क्रम में उन्होंने पंचायत की सभी योजनाओं की जांच की और वे पंचायत के विद्यालयों में भी गए। इस दौरान उन्होंने प्राथमिक विद्यालय चांय टोला खैरपुर कदवा पहुंचे। 

कार्यालय की कार्यलल लिखा था

पहुंचते ही उन्होंने विद्यालय के कार्यालय के सामने रंगीन पेंट से “कार्यलल” लिखा देखा और प्रधनाध्यापक पवन कुमार से सवाल जवाब किया तो प्रधनाध्यापक ने कहा कि किसी बच्चे ने गलत लिख दिया है। इसे सुधार दिया जाएगा।

 इसके बाद प्रखंड विकास पदाधिकारी ने विद्यालय के एक शिक्षक से 50 में दो से भाग देने को कहा तो शिक्षक ने काफी विलंब से उत्तर दिया और पदाधिकारी को संतुष्ट नहीं कर पाए। ऑरेंज समेत की अंग्रेजी स्पेलिंग पूछने पर भी उक्त शिक्षक पकड़े गए।

 इस संदर्भ में एक वीडियो भी सोशल मीडिया में वायरल है। मध्य विद्यालय पहुंचे बीडीओ ने एक कमरे में खाद रखा देखा तो उसे तत्काल हटाने का निर्देश दिया। विद्यालय में मध्याह्न भोजन योजना से भी वे नाखुश दिखे। 

निरीक्षण के बाद पत्रकारों को जानकारी देते हुए बताया कि वे विद्यालयों की अव्यवस्था के खिलाफ वरीय पदाधिकारियों को रिपोर्ट करेंगे। बीडीओ श्री कृष्णन ने कहा कि अस्पताल की व्यवस्था ठीक ठाक थी। जबकि अन्य योजनाओं की स्थिति भी संतोषजनक थी। 

प्रखंड विकास पदाधिकारी ने कहा कि हरेक योजनाओं का क्रियान्वयन सही तरीके से हो इसका पालन व्यवस्था से जुड़े हरेक कर्मी को करना चाहिये। इस अवसर पर अन्य प्रखंड कर्मियों के साथ पंचयत के जनप्रतिनिधियों की भी मौजूदगी देखी गयी।

Find Us on Facebook

Trending News