RJD में JDU का मर्जर होता तो आत्महत्या जैसी बात होती, कोई खुद आत्महत्या नहीं कर सकता

RJD में JDU का मर्जर होता तो आत्महत्या जैसी बात होती, कोई खुद आत्महत्या नहीं कर सकता

पटना : जेडीयू महासचिव के सी त्यागी ने बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी के उस दावे को ख़ारिज कर दिया है, जिसमें राबड़ी देवी ने यह कहा था कि  सीएम नीतीश कुमार आरजेडी और जदयू का मर्जर चाहते थे और इसके लिए सीएम ने प्रशांत किशोर को लालू यादव के पास पांच बार भेजा था. 

के सी त्यागी ने एक निजी चैनल से बातचीत के दौरान कहा कि राबड़ी देवी का आरोप बेबुनियाद हैं. यदि जेडीयू और आरजेडी का विलय होता तो यह आत्महत्या जैसी बात होती और हम खुद आत्महत्या नहीं कर सकते. अपनी प्रासंगिकता बनाए रखने के लिए पहले लालू यादव और बाद में राबड़ी देवी ने इस तरह का बयान दिया है. दोनों जनता का ध्यान अपनी ओर खींचना चाहते हैं. इसलिए ऐसी बेबुनियाद बातें कर रहे हैं. 

इसके साथ ही के सी त्यागी ने कहा कि पार्टी का महत्वपूर्ण पदाधिकारी होने के नाते मैं यह कहना चाहता हूं कि पार्टी में किसी भी स्टेज पर कभी भी ऐसी कोई चर्चा नहीं आई कि जदयू का राजद में मर्जर किया जाए. ये जब जनता का ध्यान खींचने के लिए किया जा रहा है. 

बता दें कि राबड़ी देवी ने शुक्रवार को यह दावा किया था कि नीतीश कुमार आरजेडी और जेडीयू का मर्जर चाहते थे, इसके लिए उन्होंने पीके को पांच बार लालू जी के पास भेजा था. जिसके बाद राबड़ी के इस बयान पर खुद प्रशांत किशोर ने ट्वीट कर लालू परिवार को चुनौती दी. उन्होंने लिखा, जब चाहें, मेरे साथ मीडिया के सामने बैठ जाएं, सबको पता चल जाएगा कि मेरे और उनके बीच क्या बात हुई और किसने किसको क्या ऑफर दिया. 


Find Us on Facebook

Trending News