12 हजार फीट की ऊंचे केदारकंठ की चोटी तक पहुंची बिहार की बेटी, कहा - बचपन से था जुनून

12 हजार फीट की ऊंचे केदारकंठ की चोटी तक पहुंची बिहार की बेटी, कहा - बचपन से था जुनून

नालंदा। बिहारशरीफ के रेलवे स्टेशन के समीप पंडित नगर निवासी अर्पणा की चर्चा सूबे में जोरशोर से हो रही है। नालंदा की बेटी ने केदारकंठ के 12 हजार फीट ऊंची बफीर्ली चोटी पर तिरंगा लहराकर कीर्तिमान बनाया है। कीर्तिमान हासिल करने वाली अर्पणा सूबे की दूसरी बेटी है। सोल एडवेंचर उत्तराखंड के केदारकंठ ट्रैक के उत्तरकाशी जिले के गोविंद वन्यजीव अभ्यारण्य में स्थित है। जिसकी ऊंचाई 12 हजार 500 फीट है। इनकी जीत पर सेन्सई चैंपियन राकेश राज ने उन्हें बधाई दी। 

इस कनकनाती ठंड में जहाँ हम अपने घरों में दुबके हैं। ऐसे में सोचिए इसने अपनी चट्टानी इरादों से हाथ में तिरंगा लिए शान से केदारकंठ पर्वत पर पहुंचती है। इन्हें जिला की पहली तो सूबे की दूसरी बेटी होने का गौरव उन्हें मिला है। इसके पहले वे वर्ष 2012 से ही कर्राटे में भी कई बार अपना दम दिखा चुकी हैं। कई चैंपियनों को धूल चटाकर दर्जनों मेडेल अपने नाम किए हैं। 

अर्पणा सिन्हा ने बताया कि पर्वत पर चढ़ने के दौरान कभी अच्छा तो कभी डर लगता था। लेकिन, मन में एक जुनून था। उसके आगे डर भी हार गयी। चोटी पर तिरंगा लहराने का बचपन से शौक था। अब और ऊंची चोटी फतह करने का लक्ष्य है।


Find Us on Facebook

Trending News