पंजाब जीतने के लिए केजरीवाल ने पेश किया प्लान, पीएम मोदी की सुरक्षा चिंता को बनाया चुनावी मुद्दा

पंजाब जीतने के लिए केजरीवाल ने पेश किया प्लान, पीएम मोदी की सुरक्षा चिंता को बनाया चुनावी मुद्दा

दिल्ली. पंजाब में सरकार बनाने की जुगत में लगी आम आदमी पार्टी ने मुख्यमंत्री पद के नाम पर फ़िलहाल चुप्पी साध ली है. आम आदमी पार्टी (आप) के नेता अरविंद केजरीवाल ने बुधवार को कहा कि पंजाब विधानसभा चुनाव के लिए पार्टी के मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार की घोषणा अगले सप्ताह की जाएगी। उन्होंने चरणजीत सिंह चन्नी नीत पंजाब सरकार पर राज्य की कानून- व्यवस्था को लेकर भी निशाना साधा और कहा, ‘ बेअदबी की सभी घटनाओं में न्याय होगा और दोषियों को कड़ी सजा दी जाएगी।’

केजरीवाल ने यहां पहुंचने के बाद हवाई अड्डे पर पत्रकारों से कहा कि प्रधानमंत्री की सुरक्षा की बात हो या आम आदमी की सुरक्षा की..उसे सुनश्चित किया जाना चाहिए। चुनाव के मुद्दे पर उन्होंने कहा, ‘मुख्यमंत्री पद के चेहरे की घोषणा अगले सप्ताह की जाएगी।’ आम आदमी पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक ने पिछले साल घोषणा की थी कि 2022 के पंजाब विधानसभा चुनाव के लिए पार्टी का मुख्यमंत्री पद का उम्मीदवार सिख समुदाय से होगा। पंजाब विधानसभा चुनाव के लिए मतदान 14 फरवरी को होगा, जबकि मतगणना 10 मार्च को की जाएगी। दिल्ली के मुख्यमंत्री ने पिछले कई वर्षों से राज्य को कथित रूप से लूटने के लिए कांग्रेस और बादल परिवार की भी आलोचना की।

उन्होंने कहा, ‘कांग्रेस और बादल परिवार का गठजोड़ पिछले कई वर्षों से चल रहा है। कांग्रेस और बादल परिवार दोनों पंजाब को लूटते रहे हैं। अब यह खत्म हो जाएगा। पंजाब में खुशहाली आएगी और पंजाब के लिए अच्छा समय आने वाला है।’ राज्य में कानून- व्यवस्था की स्थिति को लेकर चरणजीत सिंह चन्नी नीत सरकार पर निशाना साधते हुए केजरीवाल ने हाल ही में हुए बम विस्फोट, बेअदबी की घटनाओं और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा में चूक जैसी घटनाओं का जिक्र किया।      उन्होंने आरोप लगाया, ‘ कानून- व्यवस्था बिगड़ती जा रही है। चन्नी सरकार स्थिति संभाल नहीं पाई।’

गौरतलब है कि पंजाब में पांच जनवरी को प्रदर्शनकारियों द्वारा नाकेबंदी करने के कारण प्रधानमंत्री का काफिला एक फ्लाईओवर पर कुछ देर तक फंसा रहा था। इसके बाद वह एक रैली सहित किसी भी कार्यक्रम में शामिल हुए बिना पंजाब से दिल्ली लौट गए थे। केजरीवाल ने कहा कि आगामी चुनाव के बाद जब ‘आप’ की सरकार बनेगी तो कानून- व्यवस्था सुनिश्चित की जाएगी। उन्होंने कहा, ‘चारों ओर शांति होगी।’


Find Us on Facebook

Trending News