खगड़िया में तेज हुआ चुनाव प्रचार, जीतनराम मांझी और उपेन्द्र कुशवाहा ने मुकेश सहनी के लिए मांगा वोट

खगड़िया में तेज हुआ चुनाव प्रचार, जीतनराम मांझी और उपेन्द्र कुशवाहा ने मुकेश सहनी के लिए मांगा वोट

KHAGARIA : खगड़िया में लोकसभा चुनाव प्रचार तेज हो गया है। रविवार को बिहार के पूर्व मुख्‍यमंत्री सह हिंदुस्‍तानी आवाम मोर्चा के प्रमुख जीतन राम मांझी और रालोसपा के सुप्रीमो उपेन्द्र कुशवाहा ने खगड़िया से महागठबंधन के उम्मीदवार मुकेश सहनी के लिए वोट मांगा। जीतनराम मांझी और राजद के प्रधान महासचिव सह बिहार सरकार के पूर्व मंत्री आलोक मेहता ने आज महागठबंधन के उम्‍मीदवार मुकेश सहनी के लिए आज लक्ष्‍मी देवी उच्‍च माध्‍यमिक विद्यालय शुमभा गाजी घाट में एक विशाल जनसभा को संबोधित करते हुए महागठबंधन को जिताने की अपील की। जीतन राम मांझी ने बाबा साहब भीमराम अंबेदकर को याद करते हुए कहा कि आज देश में उनके द्वारा बनाए गये संविधान के साथ खिलवाड़ हो रहा है। यह चुनाव कमजोर लोगों को हक दिलाने वाली बाबा साहेब के संविधान को बचाने की है। उन्‍होंने महागठबंधन की जीत के बाद शुमभा गाजी को प्रखंड बनाने की भी घोषणा की।

उन्‍होंने कहा कि जिस दिन दिल्‍ली में महागठबंधन की सरकार बनी उसके 8 दिन बाद बिहार में भी नीतीश कुमार को चलता कर देंगे। मांझी ने नीतीश कुमार को दलित – महादलित विरोधी बताया और कहा कि नीतीश कुमार ने हमें सीएम बना कर कहा कि भूलवश उन्‍होंने जीतन राम मांझी को मुख्‍यमंत्री बनाया। नीतीश कुमार ने भूल नहीं पाप किया। उन्‍होंने अनुसूचित जाति – जन‍जाति अत्‍याचार निवारण कानून के अंतर्गत शेड्यूल कास्‍ट को रबड़ स्‍टांप समझ कर क्राइम किया है। 

मांझी ने पीएम मोदी और एनडीए पर सेना का राजनीतिकरण करने का आरोप लगाया और चुनाव आयोग से इस पर संज्ञान लेकर कार्रवाई करने की अपील की। उन्‍होंने कहा कि एनडीए के लोगों ने सेना को अपनी जागीर समझ रखा है। इसलिए वे लोगों की भावनाओं के साथ खिलवाड़ करने के लिए चुनाव प्रचार में सेना को सामने रख रहे हैं। उन्‍हें पता है कि मोदी सरकार ने पांच साल में अपने किए एक भी वादे पूर नहीं किये। इसलिए वे अब सेना का सहरा लेकर लोगों में भ्रम पैदा कर रही है। लेकिन देश के लोगों के लिए उनके इस चाल से सावधान होकर महागठबंधन को चुनाव में जितना समय की मांग बन गई है। 

वहीं अलोक मेहता ने मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार पर कुशवाहा समाज का अपमान करने का आरोप लगाया और कहा कि कुछ दिनों पहले नीतीश कुमार ने उपेंद्र कुशवाहा जी को नीच कहा था। यह कुशवाहा समाज के लिए अपमान की बात है, जिसके लिए अब तक नीतीश कुमार ने माफी नहीं मांगी, जो उनकी मानसिकता को दर्शता है। महागठबंधन के उम्‍मीदवार मुकेश सहनी को चुनाव चिन्‍ह आदमी व पाल युक्‍त नाव पर बटन दबा कर भारी मतों से विजयी बनायें।

सभा के दौरान जदयू के पूर्व एमएलए रामचंद्र सदा ने विकासशील इंसान पार्टी में शामिल हो गए। उन्‍हें पार्टी में शामिल कराते हुए पार्टी के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष सह महागठबंधन के उम्‍मीदवार मुकेश सहनी ने कहा कि महागठबंधन जनता का है और जनता के लिए महागठबंधन का कद भी बढ़ रहा है। उन्‍होंने कहा कि सभी नागरिकों के लिए समान उत्तम स्‍वास्‍थ्‍य सेवा की बहाली, कच्‍चे माल  की उपलब्‍धता के अनुसार उद्योग – धंधे का विकास, शिक्षा, गरीब लोगों के लिए पक्‍के मकान का निर्माण मेरी  प्राथमिकता होगी। हमने खगड़िया को मॉडल लोकसभा बनाने का प्रण ले लिया है। विकसित खगडि़या बनाने के लिए आप हमें समर्थन दें। उन्‍होंने वर्तमान सांसद को भी निशाने पर लिया और कहा कि ऐसा सांसद किस काम का जो चुनाव के वक्‍त वोट मांगने आये। ये समझने की जरूरत है कि जिसे जनता चुनती है, वो जनता के पास नहीं जाये। क्षेत्र में न घूमे तो काम कैसे होगा। ऐसे लोगों को यहां की जनता ने सबक सिखाने का मन बना लिया है।

पूर्व केंद्रीय मंत्री सह राष्‍ट्रीय लोक समता पार्टी के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष उपेंद्र कुशवाहा ने आज परबत्ता विधान सभा क्षेत्र के गोगरी स्थित महद्दीपुर हाई स्‍कूल में एक विशाल जनसभा को संबोधित करते हुए महागठबंधन के उम्‍मीदवार मुकेश सहनी के लिए मतदान करने की अपील की। इस दौरान उन्‍होंने नरेंद्र मोदी, नीतीश कुमार और राम विलास पासवान को निशाने पर लिया। साथ ही देश में गुणवत्तापूर्ण शिक्षा पर जोर दिया। उन्‍होंने कहा कि समान और गुणवत्तापूर्ण शिक्षा के बिना देश का विकास संभव नहीं हो सकता है।   

Find Us on Facebook

Trending News