खगड़िया नाव हादसा : 7 लाश बरामद, एक दर्जन अधिक अभी भी लापाता

खगड़िया नाव हादसा :  7 लाश बरामद, एक दर्जन अधिक अभी भी लापाता

Khagaria : जिले में कल देर शाम हुए नाव हादसे मामले में अबतक लापाता 7 लोगो का लाश बरामद किये जा चुके है, जबकि एक दर्जन से अधिक लोग अभी भी लापाता है। बरामद लाशों में चार महिला का और तीन बच्चे शामिल है। लाश बरामद होने के बाद सभी मृतक के घर में कोहराम मचा हुआ है। जिलाधिकारी आलोक रजंन घोष और सदर विधायक पूनम देवी यादव मौके पर कैम्प किये हुए है। वहीं SDRF की दो टीम लापता लोगो की तलाश कर रही है।

आपको बता दें कल शाम यात्रियों से भरी एक नाव तेज आंधी के कारण बूढ़ी गंडक में डूब गई थी। जिसमें सवार करीब एक दर्जन लोग तैरकर सुरक्षित निकल गए थे। जबकि डेढ़ दर्जन से अधिक लोग लापाता हो गए। 

घटना के कुछ ही देर बाद SDRF की टीम मौके पर पहुंच लापता लोगो की खोजबीन शुरू कर दिया। लेकिन रात में SDRF टीम को सफलता नही मिली। हालांकि स्थानीय ग्रामीणों के सहयोग से बीती रात दो महिला का लाश बरामद हुआ। वहीं आज सुबह SDRF की टीम ने भी दो बच्चे समेत तीन लोगों का लाश बरामद किया है। इस तरह से अब तक   पांच लोगों का लाश बरामद हुआ है। बांकी लापाता लोगो की तलाश जारी है।

बताते चले कि कल शाम में टीकापुर समेत कई गांव के करीब 25 से 30 लोग खगड़िया से मार्केटिंग करके नाव से गंडक नदी पार करके अपने -अपने गांव जा रहे थे। इसी दौरान तेज आंधी आने की वजह से नाव बीच नदी में हादसे का शिकार हो गयी। 

जिले के डीएम ने कहा है कि मृतक के परिजनों को सरकारी सहायता राशि के रूप में चार-चार लाख का चेक दिया जाएगा। वंही स्थानीय विधायक ने जिला प्रशासन पर लापरवाही बरतने का आरोप लगाया है। विधायक ने कहा कि जिस घाट पर घटना हुई है। वंहा बड़ी नाव का परिचालन कराने का वह प्रशासन ने मांग किये थे। मगर सदर सर्किल इंस्पेक्टर ने मांग को अनसूना कर दिया। 

Find Us on Facebook

Trending News