डॉक्टरी पेशे को छोड़ बना हत्यारा : पत्नी ने धर्म बदलने से किया इनकार, तो बेटियों के सामने कर दी हत्या

डॉक्टरी पेशे को छोड़ बना हत्यारा : पत्नी ने धर्म बदलने से किया इनकार, तो बेटियों के सामने कर दी हत्या

BARELI : झूठ बोलकर पहले प्रेम जाल में फंसाया, शादी की, दो बेटियां हुईं। फिर शुरू हुआ जबरन धर्म बदलवाने की कोशिश। जब पत्नी ने पति की बात मानने से इनकार किया तो इसका नतीजा उसे अपनी जान देकर चुकाना पड़ा। आरोपी पति ने दोनों बेटियों के सामने पत्नी की गला दबाकर हत्या कर दी और उसके शव को फंदे पर लटका दिया। 

मामला यूपी के बरेली जिले से जुड़ा है, जहां मीरगंज थाना के चुरई दलपतपुर में लव जेहाद और हत्या का एक मामला सामने आया है। यहां बीते मंगलवार को इस्लाम नगर गौंटिया में बने कोठी में रहनेवाले डॉ. इकबाल की पत्नी निशा की लाश फंदे पर लटकी हुई मिली थी। पुलिस ने शव कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम को बरेली भेज दिया था। गुरुवार को हुए पोस्टमार्टम में महिला की गला दबा कर हत्या करने की बात उजागर हुई। जिसके बाद पुलिस ने जांच शुरू की तो जो सच्चाई सामने आई वह हैरान करनेवाली थी। 

खुद को हिंदू बताकर की थी शादी

मायके वालों ने पुलिस को बताया निशा रिश्तेदार की शादी में डा. इकबाल से मिली थी। एक ही नजर में दोनों में प्यार हो गया। इकबाल ने उनकी पुत्री को अपने को हिंदू बताया था। दस साल पहले निशा ने उससे शादी कर ली। शादी करके वह निशा को चुरई दलपतपुर ले आया। कुछ दिन किराए के मकान में रहा।  शादी के बाद निशा को पति के मुस्लिम होने, पहले से शादीशुदा होने और पति के चार बच्चे होने की जानकारी हुई। पूछने पर उसने कह दिया दोनों अपने अपने धर्म को मानेंगे। इकबाल से उसके दो पुत्रियां पैदा हुईं। लेकिन कुछ माह पहले उसने धर्मपरिवर्तन को धमकाना शुरू कर दिया। 


धर्म परिवर्तन न करने पर की हत्या

मृतका की मां का आरोप है डा. इकबाल से शादी करने के बाद उनकी पुत्री निशा ने अपना धर्म नहीं छोड़ा था। पति कई माह से मेरी पुत्री पर धर्म परिवर्तन करने को दवाब देकर धमका रहा था। धर्म परिवर्तन न करने पर वह मेरी पुत्री को प्रताड़ित कर रहा था। वह धर्म न बदलने पर जान से मारने और सारी संपत्ति दूसरी पत्नी के नाम करने की धमकियां दे रहा था। निशा ने उन्हें फोन पर पति की प्रताड़ना के बारे में बताया था। 26 अक्टूबर को भी उसने निशा पर धर्म बदलने को दवाब बनाया। इनकार करने पर पति ने गला दबाकर निशा की हत्या कर दी।

बेटिंयों के सामने पिता ने की मां की हत्या

पत्नी  के धर्म बदलवाने को लेकर डॉक्टर इकबाल इतना अंधा हो चुका था कि उसने  अपनी बेटियों  रिया और रोशनी के सामने ही उनकी मां की हत्या कर दी। पुत्रियों के रोने पर उन्हे जान से मारने की धमकी देकर चुप करा दिया। मायके वालों ने बताया निशा का शव फंदे पर लटकाने के बाद पिता ने दोनों पुत्रियों को कमरे में बंद कर दिया। उसके बाद पिता साथियों के साथ फरार हो गया। 

पुलिस ने पति डा. इकबाल निवासी चुरई दलपतपुर एवं उसके साथियों के खिलाफ हत्या और विधि विरूद्ध धर्म सपरिवर्तन प्रतिशेध अधिनियम 2021 के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया। एसओ दयाशंकर ने बताया मां की तहरीर पर पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर लिया है। पुलिस विवेचना कर कार्रवाई करेगी।


Find Us on Facebook

Trending News