" किसान दिवस " का गया में दिखा असर, कांग्रेस ने कहा - हर हाल में किसान विरोध कानून को वापस लेने के लिए करेंगे मजबूर

" किसान दिवस " का गया में दिखा असर, कांग्रेस ने कहा - हर हाल में किसान विरोध कानून को वापस लेने के लिए करेंगे मजबूर

गया। बुधवार को किसान दिवस पर अवसर किसान संगठनों की अपील का असर गया में भी देखने को मिला। यहां गया  कांग्रेस , किसान कांग्रेस, इंटक एवम् कांग्रेस सेवादल के संयुक्त तत्वावधान में स्थानीय चौक स्थित इंदिरा गांधी प्रतिमा स्थल प्रांगण में " किसान दिवस " के अवसर पर देशभर में चल रहे किसान आंदोलन में शामिल अन्नदाताओं के जज्बे को सलाम करते हुए ,आंदोलन में कदम से कदम मिलाकर साथ देने का संकल्प दोहराया गया।

अखिल भारतीय कांग्रेस कमिटी के सदस्य सह मगध प्रमंडल कांग्रेस प्रवक्ता प्रो विजय कुमार मिठू, किसान कांग्रेस के प्रदेश उपाध्यक्ष सह मगध प्रमंडल प्रभारी मो सरवर खान, इंटक के प्रदेश सचिव अशोक सिंह, बाबूलाल प्रसाद सिंह, शिव कुमार चौरसिया, अमरजीत कुमार, दामोदर गोस्वामी, टिंकू गिरी, विनोद बनारसी,मो लाडला आलम, मो इकबाल, सुरेन्द्र मांझी, अरुण कुमार पासवान, मनोज कुमार पान, सरजू यादव, ब्रजेश कुमार राय आदि ने कहा कि आज देश के किसान इस कड़ाके के ठंड में विगत कई दिनों से खुले आसमान के नीचे संघर्ष कर मोदी सरकार से किसान विरोधी काले कानून को वापस लेने की मांग कर रहे हैं परंतु सरकार इन अन्नदाताओं को दलाल, नक्सली, माओवादी, खालिस्तानी, देशद्रोही तक कह कर इस आंदोलन को कांग्रेस सहित विपक्षी पार्टी की साजिश कहने में मशगूल है।

      नेताओ ने कहा को देश के पूर्व प्रधानमंत्री, किसानों के प्रखर नेता स्व चौधरी चरण सिंह जी की जयंती पर देश में किसान दिवस मनाई जाती है। मोदी सरकार के कार्यकाल में जब, जब देश के आम आवाम अपने जायज मांग को लेकर आंदोलन करते है, उसे मोदी सरकार एन - केन प्रकार दबाने का प्रयास कर खत्म करा देती है, परंतु इस बार देश के किसान उनके दवाब या साजिश में आनेवाले नहीं है।        नेताओ ने कहा की आज हम कांग्रेस के नेता कार्यकर्ता इस आंदोलन को बिहार के गांव - गांव, घर - घर में पहुंचा कर हर हाल में किसान विरोधी कानून को वापस करा कर ही दम लेंगे। 

Find Us on Facebook

Trending News