किसानों को दलाल कहे जाने पर बोली कांग्रेस - मानसिक संतुलन खो चुके हैं गिरिराज और अमरेंद्र प्रताप

किसानों को दलाल कहे जाने पर बोली कांग्रेस -  मानसिक संतुलन खो चुके हैं गिरिराज और अमरेंद्र प्रताप

गया। किसान आंदोलन को दलालों का आंदोलन कहे जाने को लेकर नया विवाद छिड़ गया है। जिसमें पहले राजद और अब कांग्रेस नेताओं ने भाजपा नेताओं को आड़े हाथ लिया है। गया कांग्रेस के नेताओं ने कहा है देश के केंद्रीय मंत्री और राज्य के कृषि मंत्री अपना मानसिक संतुलन खो चुके हैं। इन दोनों नेताओं के बयान से न सिर्फ बिहार में शर्मिंदगी का माहौल है, बल्कि किसान आंदोलन के साथ खड़े लोगों में आक्रोश व्याप्त है।

        गया बिहार सरकार के कृषि मंत्री अमरेन्द्र प्रताप सिंह द्वारा किसान आंदोलन को चंद दलालों का आंदोलन कहना एवम् केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह द्वारा कांग्रेस - कम्युनिस्ट को दोगला कहा इन दोनों नेताओ की घटिया मानसिकता को दर्शाता है।  नेताओ ने कहा अपने आका प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी एवम् मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार के चाटुकारिता में शायद ये लोग इस बात को भूल गए की देश के पचहत्तर प्रतिशत आबादी वाले अन्नदाता ही राष्ट्र की आन- बान और शान है, जिनके बारे में दुनिया का कोई भी व्यक्ति ऐसी बाते नहीं बोल सकता है।   नेताओं ने किसान, मजदूर, युवा एवम् आम आवाम से ऐसे घटिया मानसिकता रखने वाले नेताओ को सबक सिखाने की अपील की है।

 अखिल भारतीय कांग्रेस कमिटी के सदस्य सह मगध प्रमंडल कांग्रेस प्रवक्ता प्रो विजय कुमार मिठू, किसान कांग्रेस के प्रदेश उपाध्यक्ष सह मगध प्रमंडल प्रभारी मो सरवर खान, इंटक के प्रदेश सचिव अशोक सिंह, सेवादल के प्रदेश महासचिव अमरजीत कुमार, जिला संगठक टिंकू गिरी, जिला कांग्रेस उपाध्यक्ष बाबूलाल प्रसाद सिंह, शिव कुमार चौरसिया, अरुण कुमार पासवान, सुरेन्द्र मांझी, विनोद बनारसी, मो लाडला आलम, मो इकबाल , अमित कुमार आदि ने कहा कि इन दोनों केंद्र एवम् प्रदेश के मंत्री के घटिया बयान से बिहार ही नहीं बल्कि देश के किसानों में भयानक आक्रोश है, आम बिहारी इनके गलत बयानी से शर्मिंदा है।

बता दें कि रविवार को वैशाली दौरे पर गए राज्य के कृषि मंत्री अमरेंद्र प्रताप सिंह ने किसानों के आंदोलन को दलालों का आंदोलन कहा था. साथ ही इस सिर्फ दो राज्यों तक सीमित बताया था। वहीं केंद्रीय पशुपालन मंत्री गिरिराज सिंह ने मामले में लेफ्ट पार्टियों के लिए आपत्तीजनक भाषा का प्रयोग किया था

   

   

Find Us on Facebook

Trending News