किसान बिल के खिलाफ बिहार बंद के दौरान विपक्ष ने कोरोना गाइडलाइन की उड़ाई धज्जियां

 किसान बिल के खिलाफ बिहार बंद के दौरान विपक्ष ने कोरोना गाइडलाइन की उड़ाई धज्जियां

PATNA: कोविड को लेकर पूरे देश में अभी अनलॉक की प्रक्रिया चल रही है. लोगों से सरकार ने मास्क पहनने का अनुरोध किया है. मास्क नहीं पहने पर लोगों से जुर्माने की वसूली की जा रही है. वहीं दूसरी ओर विपक्ष के बिहार बन्द आंदोलन के दौरान कोरोना गाइडलाइन की खुलेआम धज्जियां उड़ाई गयी। सोशल डिस्टेंसिग का ख्याल न तो नेताओं ने रखा और न हीं कार्यकर्ताओं ने. 

जदयू नेता रणजीत झा ने कहा कि तेजस्वी यादव ट्रैक्टर पर सवार होकर किसान बिल का जब विरोध करने निकले तो उस दौरान कोरोना गाइडलाइन का बिल्कुल पालन नहीं हुआ. विरोध करने के चक्कर मे इस महामारी को खुलेआम चुनौती दी गयी.

स्वास्थ्य विभाग का नारा दो गज दूरी है जरूरी मजाक बन गया. सरकारी नीतियों के विरोध के नाम पर कोरोना जैसी घातक महामारी को आमंत्रित करने का काम किया गया. अब सवाल है कि अगर पार्टी के शीर्ष नेता ही वोट के लिये जनता के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ पर उतारू हो जाएं तो उसका भगवान ही मालिक है.

गौरतलब है कि किसान बिल के खिलाफ पूरे देश में विपक्ष दें बंद बुलाया था इस दौरान बिहार के सभी विपक्षी पार्टियों ने भी इसका समर्थन करते हुए आज बंद का आह्वान किया था इसी कार्यक्रम के तहत तेजस्वी यादव के द्वारा ट्रैक्टर रैली निकालकर किसान बिल का विरोध जताया गया लेकिन इस दौरान कहीं से भी कोरोना को लेकर जारी किए गए गाइडलाइंस का ख्याल नहीं ले रखा गया जबकि स्वास्थ्य विभाग के द्वारा लगातार लोगों को जागरूक करने के लिए कार्यक्रम चलाया जा रहा है वहीं दूसरी तरफ नेता ही स्वयं इस की धज्जियां उड़ाते दिख रहे हैं.

Find Us on Facebook

Trending News