मैं किसानों को अच्छी तरह जानता हूं, वह पीछे नहीं हटेंगे, सरकार को देर सवेर उनकी बात माननी होगी, अभी मान जाए तो बेहतर

मैं किसानों को अच्छी तरह जानता हूं, वह पीछे नहीं हटेंगे, सरकार को देर सवेर उनकी बात माननी होगी, अभी मान जाए तो बेहतर

नई दिल्ली। किसान आंदोलन को लेकर केंद्र सरकार के अड़ियल रूख को लेकर राहुल गांधी ने बड़ा हमला किया है। उन्होंने कहा कि आज किसान खुद को बचाने के लिए आंदोलन कर रहे हैं। राहुल गांधी ने कहा कि जहां तक मैं किसानों को जानता हूं, वह तब तक पीछे नहीं हटेंगे, जब तक सरकार किसानों की मांग को मान नहीं लेते हैं। प्रधानमंत्री कह रहे हैं कि दो साल तक यह कानून लागू नहीं करेंगे। देर सवेर यह कानून वापस लेना होगा, सरकार अभी इस कानून को वापस ले लेते तो बेहतर है। उन्होंने कहा कि दिल्ली बॉर्डर पर किलेबंदी की जा रही है, क्या सरकार किसानो से डरती है। सरकार को किसानों से किस बात का डर है।

इस दौरान किसानों को आतंकवादी कहे जाने पर राहुल गांधी ने नाराजगी जाहिर करते हुए कहा कि अगर किसान आतंकी है, तो उनकी संख्या में देश की आबादी की 60 प्रतिशत है, क्या यह आतंकवादी है। सिर्फ आरएसएस के लोग ही देश भक्त हैं। उन्होंने लाल किले पर हुए हमले को लेकर कहा कि ऐसी स्थिति के लिए कौन जिम्मेदार है। क्यों ऐसी हालत उत्पन्न हो गई। लाल किला की सुरक्षा की जिम्मेदारी देश के गृह मंत्रालय की है। गृह मंत्रालय बताये कि वह लोग कैसे लाल किले में घुसे।

देश की सुरक्षा पर खतरा

राहुल गांधी ने कहा कि आज देश की जो हालत हैं मुझे यह कहने में कोई गुरेज नहीं है कि देश की आंतरिक सुरक्षा खतरे में है। देश का माहौल ऐसा हो गया है कि अब कभी भी कोई बड़ी घटना हो सकती है। इस दौरान उन्होंने मीडियाकर्मियों की आवाज दबाने को लेकर सरकार के रवैये पर तंज भी कसा, पूछा कि क्या आप लोग ठीक हैं। वर्तमान सरकार देश की स्थिति को संभाल पाने में पूरी तरह से नाकाम रही है। वह पूरी तरह से फेल हो चुके हैं।


Find Us on Facebook

Trending News