लालू -राबड़ी के बाद अब जेल की बारी किसकी ? किसपे साधा नीतीश कुमार ने निशाना

लालू -राबड़ी के बाद अब जेल की  बारी किसकी ? किसपे साधा नीतीश कुमार ने निशाना

बिहार चुनाव शुरू होते ही बात विवाद का शिलशिला चालू हो गया , कही नीतीश कुमार को तेजस्वी ने ललकारा तो कही चुनावी सभा के दौरान मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बिना नाम लिए राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव पर निशाना साधते हुए कहा कि वो अंदर कैसे हैं, कोई नई चीज में अंदर हैं क्या. अपना जो काम धंधा किये थे, उसी में ना अंदर हैं. इतना ही नहीं सीएम नीतीश ने आगे कहा कि अभी और लोग भी अंदर जाएंगे.

दरअसल, मुख्यमंत्री नीतीश कुमार नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव के उस बयान का जवाब दे रहे थे, जिसमें उन्होंने कहा था कि नीतीश जी पुरानी बात कर रहे हैं. इसी बयान पर सीएम ने आगे कहा कि पंद्रह साल पति पत्नी को काम करने का मौका मिला, लेकिन कुछ नहीं किया. उन लोगों को मौका मिला तो अपने लिए काम किया.

मुख्यमंत्री ने आगे अपने पंद्रह साल के कार्यकाल का जिक्र करते हुए कहा कि हम लोगों ने न्याय के साथ विकास किया है, हमने जंगज राज को ख़त्म कर  लोगों के  विकास और उज्जवल भविष्य के ली काम किया किया है ,  क्राइम, कम्यूनिज्म और करप्शन को हम बर्दाश्त नहीं करते हैं. उन्होंने कहा कि अपराध के आंकड़े में बिहार 23वें नंबर पर है. अब लालटेन युग समाप्त हो गया है, गांव-गांव में बिजली पहुंच गई है.

बता दें कि इससे पहले तेजस्वी यादव ने भी मुख्यमंत्री पर तंज कसते हुए कहा था कि वे 2012 में बीजेपी से अलग हो गये, 2015 में हमारे साथ आ गये और फिर हमसे भी अलग हो गये. अगर इसी तरह की सरकार चाहिए तो बिहार का विकास संभव नहीं है. उनकी न कोई नीति है, न कोई विचारधारा है और न ही कोई सिध्दांत है. तेजस्वी यादव ने कहा था कि बेरोजगारी, भुखमरी पर बात करने पर मुख्यमंत्री हंसते हैं.

गौरतलब है कि बिहार विधानसभा चुनाव का प्रचार शुरू हो चुका है. पार्टियां चुनाव प्रचार में पूरी ताकत झोंक रही हैं. इस दौरान पार्टी के नेता एक दूसरे पर आरोप प्रत्यारोप भी कर रहे हैं.

Find Us on Facebook

Trending News