पीएम मोदी ने कोसी रेल महासेतु का किया उद्घाटन, 516 करोड़ की आई है लागत

पीएम मोदी ने कोसी रेल महासेतु का किया उद्घाटन, 516 करोड़ की आई है लागत

SUPAUL : प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज बिहार को विकास की सौगात दी है. आज कोसी क्षेत्र के लोगों की वर्षों पुरानी मांग पूरी हो गयी है. आज प्रधानमन्त्री ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए 516 करोड़ की लागत से निर्मित कोसी महासेतु का उद्घाटन किया. इसके साथ ही पीएम मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के द्वारा ही सुपौल के सरायगढ़ से आसनपुर कुपहा के बीच ट्रेन को भी रवाना किया. 

इससे कोसी क्षेत्र से मिथिलांचल का सीधा रेल मार्ग से जुड़ाव हो जाएगा. इस रेल पुल के शुरू होते ही निर्मली से सरायगढ़ की 298 किलोमीटर की दूरी घटकर महज 22 किलोमीटर रह जाएगी. अभी निर्मली से सरायगढ़ तक के सफर के लिए लोगो को दरभंगा-समस्तीपुर-खगड़िया- मानसी-सहरसा होते हुए 298 किमी की दूरी तय करनी होती है. इस नए पुल पर जून में ही ट्रेनों के परिचालन का ट्रायल सफल रहा है. इस मौके पर भाजपा के तमाम नेता और कार्यकर्ता स्टेशन पर मौजूद थे. इस महासेतु के बन जाने से क्षेत्र के लोगों में ख़ुशी लहर दौड़ गयी है. 

कोसी रेल महासेतु बनने से नेपाल सीमा तक बढ़ेगी पहुंच 
बता दें कि 1887 में निरमाली और भापतियही (सरायगढ़) के बीच मीटर गेज का निर्माण किया गया था. भारी बाढ़ और 1934 में आए विनाशकारी भूंकप से यह रेल लिंक बह गया. बाद में कोसी नदी में बाढ़ के खतरे को देखते हुए दोबारा इस पुल को बनाने की कोशिश नहीं हुई. 

सरकार ने साल 2003-04 को कोसी मेगा ब्रिज प्रोजेक्ट को मंजूरी दे दी थी. इस 1.9 किमी लंबे महासेतु को बनाने में 516 करोड़ रुपये का खर्च आया है. इस पुल से नेपाल सीमा पर भारत  की स्थिति मजबूत होगी.

सुपौल से पप्पू आलम की रिपोर्ट 

Find Us on Facebook

Trending News