रात भर दिव्यांग और उसकी मां को थाने में रखा, सुबह घर पहुंचते ही युवक की मौत, अब पुलिस पर लग रहा पिटाई का आरोप

रात भर दिव्यांग और उसकी मां को थाने में रखा, सुबह घर पहुंचते ही युवक की मौत, अब पुलिस पर लग रहा पिटाई का आरोप

उन्नाव। यूपी पुलिस फिर से चर्चा में है। लेकिन इस बार किसी अपराधी के एनकांउटर के कारण नहीं, बल्कि एक दिव्यांग युवक की मौत की वजह से। आरोप है कि दिव्यांग की पुलिस ने रात भर पिटाई की, जिसके कारण सुबह घर पहुंचते ही युवक की मौत हो गई। अब मामला सामने आने के बाद पुलिस के बड़े अधिकारी जांच में जुट गए हैं। 

मौत की यह घटना उन्नाव जिले की है। जहां पुरवा में भूमि पर कब्जे की शिकायत लेकर दाएं पैर से दिव्यांग कोड़रा गांव निवासी कमल किशोर (35) । शुक्रवार को वह अपनी मां रामकुमारी के साथ एक शिकायती पत्र लेकर एसडीएम राजेश चौरसिया के पास पहुंचा था। एसडीएम ने उनकी शिकायत सुनने के बा एफआईआर कराने के लिए कोतवाली भेज दिया। जहां बताया जा रहा है कि दिव्यांग कमल पुलिस से तुरंत कार्रवाई करने की मांग की। जिसको लेकर पुलिस ने नाराजगी दिखाते हुए दोनों मां बेटों को रात भर थाने में ही बिठाए रखा। सुबह पुलिस ने उसे जीप से घर पहुंचाया। कुछ देर बाद युवक लड़खड़ाकर गिरा और उसकी मौत हो गई।

मौत के बाद पुलिस कर्मियों में मचा हड़कंप

ग्रामीणों में पुलिस की पिटाई से मौत की चर्चा पर कोतवाल उल्टे पांव गांव पहुंचे और जांच की। पुलिस के अनुसार मृतक की मां ने बयान दिया है कि उसका बेटा टीवी की बीमारी से ग्रसित था। उसका मानसिक संतुलन भी ठीक नहीं रहता था। पुलिस की पिटाई से मौत की चर्चा पर पुलिस ने मौके पर पहुंचकर जांच की और मां के बयान दर्ज किए। अब पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार किया जा रहा है।

Find Us on Facebook

Trending News