कुलदीप बिश्नोई ने विधानसभा की सदस्यता से दिया इस्तीफा, अब भाजपा में होंगे शामिल

कुलदीप बिश्नोई ने विधानसभा की सदस्यता से दिया इस्तीफा, अब भाजपा में होंगे शामिल

DESK. हरियाणा के भूतपूर्व सीएम स्व. चौधरी भजनलाल के बेटे व आदमपुर विधायक कुलदीप बिश्नोई ने एक बार फिर कांग्रेस को अलविदा बोल दिया है। कांग्रेस छोडऩे के साथ ही उन्होंने विधानसभा की सदस्यता से भी इस्तीफा दे दिया है। कुलदीप अब बृहस्पतिवार को भाजपा में शामिल होंगे। बुधवार को विधानसभा पहुंचे कुलदीप ने स्पीकर ज्ञानचंद गुप्ता को उन्होंने अपना इस्तीफा सौंपा। स्पीकर इस्तीफे पर कानूनी राय ले रहे हैं और शाम तक इसके मंजूर होने के आसार हैं।

भाजपा में कुलदीप अकेले नहीं जा रहे हैं। हिसार लोकसभा से कांग्रेस टिकट पर चुनाव लड़ चुके उनके बेटे भव्य बिश्नोई, उनकी मां जसमा देवी व पत्नी रेणुका बिश्नोई भी भाजपा की सदस्यता ग्रहण करेंगी। जसमा देवी आदमपुर हलके से और रेणुका बिश्नोई आदमपुर और हांसी दोनों जगह से विधायक रह चुकी हैं। कुलदीप ने हरियाणा भर के अपने सभी समर्थकों को भी बृहस्पतिवार को नई दिल्ली बुलाया है। वे समर्थकों को भी भाजपा में साथ ही लेकर जा रहे हैं।

विधानसभा में इस्तीफा सौंपने के दौरान कुलदीप के साथ उनकी पत्नी रेणुका बिश्नोई, डिप्टी स्पीकर रणबीर सिंह गंगवा, फतेहाबाद विधायक चौ. दूड़ाराम, रतिया विधायक लक्ष्मण नापा और हांसी के विधायक विनोद भ्याना भी मौजूद रहे। बताते हैं कि इस्तीफा देने के बाद कुलदीप ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर से भी मुलाकात की। कुलदीप की भाजपा में जॉइनिंग के दौरान सीएम भी नई दिल्ली में उनके साथ मौजूद रहेंगे। कुलदीप को भाजपा में आने में सीएम की ही सबसे बड़ी भूमिका रही है।


इस्तीफा देने के बाद मीडिया से बातचीत में कुलदीप ने कहा, ‘मेरे हलके के अलावा राजस्थान के समर्थकों की ओर से काफी लम्बे समय से कहा जा रहा था कि आप अपनी अंतर-आत्मा की आवाज से काम लें। मैंने हलके के लोगों से विचार-विमर्श किया और उनकी सहमति और मांग के बाद ही यह कदम उठाया है’। कांग्रेस पर कटाक्ष करते हुए उन्होंने कहा कि कांग्रेस में अब सिद्धांत नहीं रहे। मौजूदा कांग्रेस इंदिरा गांधी और राजीव गांधी के समय की कांग्रेस नहीं है।

भाजपा और पीएम नरेंद्र मोदी की तारीफ करते हुए बिश्नोई ने कहा कि भाजपा देशहित में सोचती है। मोदी की कार्यशैली और मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर की प्रदेश के विकास के प्रति सोच से प्रभावित होकर मैंने कांग्रेस छोडऩे का फैसला लिया है। कुलदीप ने कहा कि नरेंद्र मोदी निडर पीएम हैं और देश उनके हाथों में सुरक्षित है। कुलदीप ने खुद ही बताया कि उन्होंने दूसरी बार आदमपुर से इस्तीफा दिया है। हिसार से लोकसभा चुनाव जीतने के बाद उन्होंने पहली बार आदमपुर से इस्तीफा दिया था।

कुलदीप ने कहा कि सात पूर्व विधायक भी उनके संपर्क में हैं और वे भाजपा ज्वाइन करने को तैयार हैं। भाजपा और मुख्यमंत्री जिस दिए कहेंगे, उन्हें भी भाजपा में लाऊंगा। एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि कोई सिङ्क्षटग विधायक उनके संपर्क में नहीं है। उन्होंने कहा कि वे एक साधारण कार्यकर्ता के रूप में भाजपा ज्वाइन कर रहे हैं और उम्मीद है कि भाजपा में मेरे हलके, प्रदेश, राजस्थान व पंजाब के समर्थकों को पूरा मान-सम्मान मिलेगा।


Find Us on Facebook

Trending News