जोकीहाट के जश्न का जायका बिगड़ा- लालू परिवार की सम्पत्ति जब्त रहेगी जांच एजेंसी के पास

जोकीहाट के जश्न का जायका बिगड़ा- लालू परिवार की सम्पत्ति जब्त रहेगी जांच एजेंसी के पास

PATNA :  राजद अभी जोकीहाट की जीत पर ठीक से जश्न मना भी नहीं पाया था कि ईडी ने लालू परिवार एक तेज झटका दिया। मनीलांड्रिंग रोकथाम कानून (पीएमएलए) से जुड़ी अथॉरिटी के अद्यतन आदेश के बाद लालू परिवार की 44.75 करोड़ रुपये मूल्‍य की जब्‍त की गई संपत्ति जांच एजेंसी के ही कब्‍जे में रहेगी। 

LALU-FAMILLY-PROPERTY-WILL-BE-UNDER-THE-INVESTIGATING-AGENCY3.jpg

रेलवे टेंडर मामले में गड़बड़ी से जुड़े मामले में यह आदेश दिया गया है। ईडी ने पीएमएलए के तहत करोड़ों रुपये मूल्‍य के 11 प्‍लॉट जब्‍त किए थे। एडजुडिकेटिंग अथॉरिटी मुताबिक ईडी द्वारा जब्‍त संपत्ति मनीलांड्रिंग के तहत ही अर्जित की गई थी। लिहाजा, इस पर ईडी का ही कब्‍जा रहेगा। जांच एजेंसी ने पिछले साल दिसंबर में बिहार की राजधानी पटना के समीप स्थित दानापुर में तकरीबन तीन एकड़ जमीन को अस्‍थायी तौर पर जब्‍त किया था। खबरों के मुताबिक पीएमएलए अथॉरिटी के निर्देश के बाद अब ईडी संबंधित प्‍लॉट को स्‍थायी तौर पर जब्‍त करते हुए उन पर अपने साइनबोर्ड लगा सकता है।

LALU-FAMILLY-PROPERTY-WILL-BE-UNDER-THE-INVESTIGATING-AGENCY2.jpg

पीएमएलए अथॉरिटी के मुताबिक जिन अचल संपत्तियों को अस्‍थाई तौर पर जब्‍त किया गया था, उनका संबंध मनीलांड्रिंग से है। ऐसे में ये संपत्तियां जांच जारी रहने तक (90 दिन से ज्‍यादा नहीं) जब्‍त ही रहेंगी। ईडी द्वारा जब्‍त प्‍लॉट डिलाइट मार्केटिंग कंपनी ,अब लारा प्रोजेक्‍ट्स एलएलपी, के नाम पर हैं। लालू यादव की पत्‍नी और बिहार की पूर्व मुख्‍यमंत्री राबड़ी देवी और तेजस्‍वी यादव से इस मामले में पूछताछ की जा चुकी है।

Find Us on Facebook

Trending News