लालू की विचारधारा को लालू परिवार ने खत्म किया, तेजस्वी यादव को लेकर जानिए पप्पू यादव ने और क्या कहा

लालू की विचारधारा को लालू परिवार ने खत्म किया, तेजस्वी यादव को लेकर जानिए पप्पू यादव ने और क्या कहा

PATNA : सैनिकों के गाँव कहे जाने वाले मनेर के रत्नटोला गाँव के लोग आज़ादी के 73 वर्षों बाद आज भी ज़हरीला आर्सेनिक युक्त पानी पीने के लिए मजबूर हैं. इस मामले को लेकर जन अधिकार पार्टी के संरक्षक पप्पु यादव आज मनेर पहुँचे. जब उनके सामने एक गिलास में पानी रखा गया तो उसमें पिला परत बन गया. इसके बाद पप्पू यादव ने इस गाँव को गहरे बोरिंग वाले 4 चापाकल देने की घोषणा की. इसके साथ ही आस पास के आर्सेनिक प्रभावित प्रत्येक गाँव मे 3-4 और चापाकल देने का वादा किया. 

इस मौके पर ग्रामीणों ने उन्हें कटाव की समस्या से अवगत कराया तो वो राज्य सरकार पर जमकर बरसे. उन्होंने आंदोलन और पीआईएल दाखिल करने की बात की. उन्होंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर वार करते हुए कहा कि वे महज़ चेहरे के लिए मुख्यमंत्री है. इससे आगे उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार बेहतर मुख्यमंत्री नहीं है. उन्होंने अस्पताल, शिक्षा और इंफ्रास्ट्रक्चर जैसे मुद्दों को लेकर भी सरकार को घेरा. सामाजिक न्याय की बात करते हुए पप्पु यादव ने एक देश, एक तरह की शिक्षा, एक तरह के स्वास्थ्य की बात कहीं.

उन्होंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को निशाने पर लेते हुए कहा कि नीतीश कुमार राजद के ख़िलाफ़ माहौल बना रहे थे. इस बात को लालू  यादव समझ नहीं पाए. लालू यादव के राज में अगर जंगलराज था तो आज उससे बड़ा माफ़िया राज है. 

वहीँ ऐश्वर्या राय और लालू यादव को लेकर पप्पू यादव ने विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव पर भी निशाना साधा. उन्होंने कहा कि जो एक बच्ची को नहीं बचा सका और अपने पिता के सम्मान को जोग नहीं सका, जो आंदोलनों और लाठी खाने से बचे. उसके बारे में कुछ नहीं कहा जा सकता. पप्पू यादव ने लालू यादव की विचारधारा को ख़त्म करने में लालू परिवार को ही जिम्मेदार बताया. एक समय लालू यादव के राजनीतिक उत्तराधिकारी का दावा करने वाले पप्पू यादव ने कहा कि राजनीतिक उत्तराधिकारी जनता तय करती हैं. उन्होंने चौधरी चरण सिंह और मुलायम सिंह यादव का भी उदाहरण दिया.

पटना ग्रामीण से बैजू कुमार की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News