लालू के जेल से बाहर आने की खबर क्या बदल देगी चुनावी समीकरण, क्या तेजस्वी को लग गई है पहले से कुछ भनक

लालू के जेल से बाहर आने की खबर क्या बदल देगी चुनावी समीकरण, क्या तेजस्वी को लग गई है पहले से कुछ भनक

PATNA : बिहार विधानसभा चुनाव के पहले फेज के लिए नामांकन खत्म हो चुका है और आज से 94 सीटों पर नामांकन शुरू हो गया है. बिहार में चुनावी माहौल एकदम टाइट है. इस बीच राजद सुप्रीमो लालू यादव की जमानत की खबर और अगले महीने जेल से बाहर आने की अटकले राजद को क्या फायदा पहुंचा सकती हैं?

बिहार में तेजस्वी यादव महागठबंधन को लीड कर रहे हैं. लालू यादव जेल में हैं. हालांकि यह कहा जाता रहा है कि लालू जेल के अंदर से ही तेजस्वी को गाइड करते रहते हैं. लेकिन आज लालू यादव को चाईबासा कोषागार मामले में जमानत मिल गई. जमानत की खबर से ही लालू के फैन्स और राजद कार्यकर्ताओं में उत्साह भर गया. बेल की खबर आग की तरह बिहार में फैल गई. राजद कार्यकर्ता पार्टी ऑफिस पहुंचकर लालू यादव का जयकारा लगाने लगे.

लालू के बाहर आने का हल्ला कहीं बदल ना दे चुनावी समीकरण
बिहार की राजनीति को समझने वाले जानते हैं कि लालू यादव की अपने समाज में कितनी पकड़ है. लालू यादव के एम-वाई समीकरण के तोड़ के लिए सियासी दलों ने कई जुगत लगाए लेकिन लालू यादव की यह खूबी ही है कि वो अपने वोट बैंक को मैनेज करने में हर बार कामयाब हो जाते हैं. बिहार में चुनावी सरगर्मी के बीच हर सियासी दल मुद्दों के तलाश में है. ऐसे में तेजस्वी जानते हैं कि लालू के बाहर आने की खबर से ही उनके समर्थकों में जोश भर आएगा. राजनीतिक जानकार मानते हैं कि चुनावी माहौल में लालू के जेल से बाहर आने की खबर को राजद नेता कैश करवा सकते हैं. 

अगले महीने बाहर आने का ये हल्ला
लालू यादव को चाईबासा कोषागार में आज जमानत मिल गई. लेकिन दुमका कोषागार मामले में 9 नवंबर को फैसला आएगा.लालू समर्थकों का कहना है कि आधी सजा के आधार पर अगले महीने लालू यादव को दुमका कोषागार मामले में भी बेल मिल जाएगी और वो बाहर आ जाएंगे.खैर ये सब तो समर्थकों के कयास हैं. लेकिन कानूनी पेच क्या हैं और लालू यादव को दुमका मामले में जमानत मिलती है या नहीं वो तो आने वाला वक्त ही बताएगा. लेकिन फिलहाल लालू के बेल की खबर से राजद के कार्यकर्ता काफी गदगद हैं.

Find Us on Facebook

Trending News