लातेहार में बड़ा नक्सली हमला,भारी गोलीबारी कर दर्जनों वाहन को फूंका

लातेहार में बड़ा नक्सली हमला,भारी गोलीबारी कर दर्जनों वाहन को फूंका

NEWS4NATION DESK :  लातेहार जिले के चंदवा थाना क्षेत्र अंतर्गत टोरी रेलवे साइडिंग में गुरुवार की रात उग्रवादी संगठन झारखंड जनमुक्ति परिषद के सशस्त्र दस्ते ने जमकर उत्पात मचाया। 

उग्रवादियों ने साइडिंग परिसर में खड़े डेढ़ दर्जन वाहनों को फूंक दिया। साथ ही 6 लोगों की पिटाई की और उनका मोबाइल भी लूट लिया। घटना में करोड़ों के नुकसान का अनुमान लगाया जा रहा है। 


मामले की सूचना मिलते ही चंदवा पुलिस मौके पर पहुंची पुलिस को देखते ही उग्रवादी गोली चलाने लगे पुलिस ने भी जवाबी कार्रवाई कर गोली चलाना शुरु किया। डेढ़ घंटे तक दोनों तरफ से रुक-रुक कर गोलीबारी होती रही। इसके बाद उग्रवादी जंगलों का लाभ उठाकर भाग निकले। 

अधिवक्ता ने भी की फायरिंग :

साइडिंग परिसर के समीप स्थित अधिवक्ता लाल अरविंद नाथ शाहदेव को सूचना मिली कि उग्रवादियों ने हमला कर दिया है। सूचना मिलते ही वे अपनी लाइसेंसी बंदूक लेकर हवा में फायरिंग करना शुरू कर दिए ताकि उग्रवादियों को पता चल सके कि जवाबी कार्रवाई शुरू हो गई है। 

इसके तुरंत बाद पुलिस ने भी फायरिंग शुरू कर दी तो उग्रवादियों को भागना पड़ गया। लोगों ने बताया कि अधिवक्ता की ओर से फायरिंग किए जाने के बाद उग्रवादियों की टीम उत्तर दिशा की ओर नहीं बढ़ी अन्यथा और कई वाहन फूंक दिए जाते।

मिली जानकारी के अनुसार 15 से 20 की संख्या में हथियारों से लैस होकर उग्रवादी पूर्व दिशा से साइडिंग में प्रवेश कर गए। साइडिंग परिसर में आते उग्रवादियों ने अंधाधुंध फायरिंग शुरू कर दी। इससे मौके पर मौजूद लोगों में भगदड़ मच गई। चालक अपने वाहन को छोड़कर भागने लगे। इसके बाद उग्रवादियों की एक टीम वाहनों में तेल डालकर आग लगाना शुरू की। दूसरी टीम में कार्य कर रहे लोगों को एक जगह एकत्र कर राइफल के कुंदे से पीटकर घायल कर दिया। साथ ही उनका मोबाइल फोन और टॉर्च भी लूट लिया।

घटनास्थल के समीप उग्रवादी संगठन झारखंड जनमुक्ति परिषद जेजेएमपी ने हस्तलिखित पर्चा छोड़कर घटना की जिम्मेवारी ली है। पर्चा में संगठन के लवलेश के द्वारा कहा गया है कि घटना को लेवी नहीं दिए जाने के कारण अंजाम दिया गया है।

उग्रवादी संगठन जेजीएमपी ने टोरी व बिराटोली कोल साइडिंग में बिना इजाजत के कम नहीं करने की धमकी दी है। आदेश का उलंघन कर काम करने पर फौजी कार्रवाई की धमकी भी दी गई है। पोस्टर में दोनों को साइडिंग में ट्रांसपोर्टिंग का कम बंद करने को कहा है।

घटना के बाद मामले को लेकर लातेहार जिले के समीपवर्ती चतरा, लोहरदगा और रांची जिले के सीमांत इलाके में पुलिस को अलर्ट कर दिया गया है। तीनों जिले से होकर गुजरने वाले मार्ग को सील कर पुलिस सघन तलाशी अभियान चला रही है। 

वहीं  जिला मुख्यालय लातेहार समेत आसपास के थाना क्षेत्र से भी फोर्स मंगाई गई है। साथ ही इलाके में ग्रामीण पथों को जोड़ने वाले मार्ग की नाकेबंदी कर दी गई है। इसके अलावा पुलिस की एक टीम मुख्य पथ में लगातार गश्त कर हर आने जाने वाले पर नजर बनाए हुए है।

Find Us on Facebook

Trending News