न्यायपालिका पर पुलिस का हमले से गुस्से विधिज्ञ संघ, सरकार से मधुबनी एसपी को बर्खास्त करने की मांग

न्यायपालिका पर पुलिस का हमले से गुस्से विधिज्ञ संघ, सरकार से मधुबनी एसपी को बर्खास्त करने की मांग

Lakhisarai : मधुबनी जिला अन्तर्गत झंझारपुर मे पदस्थापित अपर जिला जज पर हुए जानलेवा हमला की घोर निन्दा करते हुए हमलावर पुलिस पदाधिकारी और घटना को अंजाम दिलाने वाले पुलिस अधीक्षक की बर्खास्तगी कर गिरफ्तारी की मांग जिला विघिज्ञ संध लखीसराय के सदस्यों ने सरकार से किया है। 

सरकार से मांग करते हुए संघ के सदस्यों ने सरकार की कार्य प्रणाली की घोर निन्दा करते हुए कहा है कि वर्तमान समय में पुलिस उदंड होकर कानुन की सुरक्षा के बजाय अपराधिक कृत्य मे लग कर लोकतंत्र के मालिक आम जनता एवं लोकतंत्र का रक्षक न्यायपालिका को निशाना बना रहीं हैं विशेष कर अधिवक्ता समुदाय के साथ दुशमनागत व्यवहार करती है और हमेशा प्रताड़ित करने पर तुले हुए रहते हैं। आज बिहार पुलिस ने न्यायपालिका की गरिमा को तार- तार कर दिया है उसको सरकारी सेवा मे रहने का कोई नैतिक अधिकार नहीं है सरकार उसे तुरन्त बर्खास्त करें और अधिवक्ता और न्यायिक पदाधिकारियों को सुरक्षा मुहैया कराए एवं बर्खास्तगी पश्चात गिरफ्तारी की

 मांग करने वालों मे अधिवक्ता रजनीश कुमार, धन्नजय कुमार, शिवेश कुमार कुमारी बबीता, विजय कुमार सिंह, विकास चन्द्र, सितेश कुमार सुधांशु, अजय यादव,जय प्रकाश सिंह,अजय कुमार सिंह, अशोक ठाकुर, राजीव कुमार, अरविंद कुमार सुधांशु, विजय कुमार यादव समेत सैकड़ों अधिवक्ता है ।

बता दें कल मधुबनी में एडीजे अविनाश कुमार के चैंबर में घुसकर कुछ पुलिसकर्मियों ने पिस्तौल की नोंक पर मारपीट की थी। इस मामले में पटना हाईकोर्ट ने स्वतः संज्ञान लेते हुए बिहार के मुख्य सचिव, गृह सचिव, डीजीपी और मधुबनी एसपी को नोटिस जारी किया है। जिसमें जवाब देने ने लिए डीजीपी को कोर्ट में खुद हाजिर होने के निर्देश दिए गए हैं।



Find Us on Facebook

Trending News