क्रिकेट जगत में छाई शोक की लहर, पूर्व भारतीय कप्तान अजित वाडेकर का निधन

क्रिकेट जगत में छाई शोक की लहर, पूर्व भारतीय कप्तान अजित वाडेकर का निधन

News4nation desk- भारतीय पूर्व कप्तान अजित लक्ष्मण वाडेकर के निधन से पूरी क्रिकेट जगत को शोक में डूबा हुआ  है. 77 साल की उम्र में लम्बी बीमारी के बाद मुंबई में उनका निधन हो गया. इंग्लैंड में टीम इंडिया को पहली सीरीज में जीत दिलाने वाले अजित वाडेकर ने अंतिम सांस बुधवार को मुंबई के जसलोक अस्पताल में लिया। बता दें कि अजीत वाडेकर को पहला एक दिवसीय अंतरराष्‍ट्रीय कप्‍तान बनाया गया था. अजीत वाडेकर ने 1966 से 1974 तक क्रिकेट खेला. उन्होंने अपनी प्रथम श्रेणी क्रिकेट की शुरुआत 1958 में की थी, जबकि अतंरराष्‍ट्रीय कॅरियर की शुरुआत 1966 में की थी.

उनकी कप्तानी में भारत ने इंग्लैंड क्रिकेट टीम और वेस्टइंडीज क्रिकेट टीम के ख़िलाफ़ शृंखला भी जीती थी। ये अपने क्रिकेट कैरियर में तीसरे नम्बर पर बल्लेबाजी करने आते थे। उनकी कप्तानी के दौरान टीम इंडिया ने पांच देशों के बीच खेले गए हीरो कप टूर्नामेंट में भी जीत दर्ज की। एक इंटरव्यू में अजित वाडेकर ने कहा था, 'मेरा एकमात्र हथियार स्पिन था, जिसका मुझे सर्वश्रेष्ठ इस्तेमाल करना था।' भारत ने जो विदेशों में दो बड़ी जीत दर्ज की, उसमें भी भारतीय टीम के स्पिनर्स ने बड़ी भूमिका निभाई थी। वाडेकर के नेतृत्व में भारत ने 1971 में दो ऐतिहासिक सीरीज जीत हासिल की, लेकिन 1974 में उनकी कप्तानी का अंत अच्छे अंदाज में नहीं हुआ। उन्होंने 33 साल की उम्र में संन्यास ले लिया था. 

अजित वाडेकर का जन्म 1 अप्रैल 1941 को मुंबई में हुआ था. यह खबर सुनते ही क्रिकेट जगत में शोक की लहर दौड़ गयी और सभी ने इसका दुःख भी जताया। सचिन तेंदुलकर से लेकर BCCI और ICC ने ट्विटर पर भावुक पोस्ट किया है. 











Find Us on Facebook

Trending News