JCB खुदाई देखने से भी कम भीड़ 'ललन-तेजस्वी' की जनसभा में, BJP ने जारी किया वीडियो, कहा- मैदान का कोना नहीं भर सकते और दावा दुनिया हिलाने की

JCB खुदाई देखने से भी कम भीड़ 'ललन-तेजस्वी' की जनसभा में, BJP ने जारी किया वीडियो, कहा- मैदान का कोना नहीं भर सकते और दावा दुनिया हिलाने की

PATNA: बिहार में विधानसभा की दो सीटों पर हो रहे उप चुनाव को लेकर सत्ता पक्ष और विपक्ष ने पूरी ताकत लगा दी है.1 नवंबर को चुनाव प्रचार खत्म हो रहा है. लिहाजा महागठबंधन और बीजेपी की तरफ से नेताओं का चुनावी दौरा जारी है. शुक्रवार को डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव और जेडीयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह ने संयुक्त रूप से गोपालंगज सीटे से राजद प्रत्याशी मोहन गुप्ता के पक्ष में चुनावी सभा को संबोधित किया. इस दौरान खेल मैदान में आयोजित जनसभा का वीडियो सामने आया है। पीछे से लिये गये वीडियो में लोगों की काफी कम संख्या दिखाई दे रही है। उस वीडियो को आधार बनाकर बिहार बीजेपी ने जेडीयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष ललन सिंह और डिप्टी सीएम तेजस्वी यादव को घेरा है। बीजेपी ने तंज कसते हुए कहा है कि जेसीबी खुदाई को देखने जितने लोगों की भीड़ जुटती है, उससे भी कम ललन सिंह-तेजस्वी यादव की जनसभा में लोग पहुंचे थे। 

दावा दुनिया हिलाने की और मैदान का एक कोना तक नहीं भर सकते-बीजेपी 

बिहार बीजेपी के ट्वीटर हैंडल से गोपालगंज में तेजस्वी यादव और ललन सिंह की संयुक्त जनसभा का वीडियो शेयर किया गया है। वीडियो में तेजस्वी यादव मंच पर दिख रहे हैं, जबकि ललन सिंह भाषण दे रहे. मैदान में जब कार्यक्रम चल रहा था तभी पीछे से वीडियो बनाया गया है. 1 मिनट 41 सेकेंड का वीडियो जारी कर बीजेपी ने महागठबंधन के नेताओं पर तंज कसा है। बिहार बीजेपी के ट्वीटर हैंडर से वीडियो शेयर कर लिखा गया है,''गोपालगंज में मैदान का एक कोना तक भर नहीं सकते, लेकिन दावा दुनिया हिलाने की करेंगे, मंच पर तेजस्वी यादव और भाषण फेंकते ललन सिंह'' ....वीडियो पर लिखा है- ''पलटीबाजों पर नहीं है बिहार को भरोसा, जेसीबी खुदाई से भी कम भीड़ पहुंची ललन सिंह और तेजस्वी की जनसभा में''. 

बिहार में जारी है फोटो पर फसाद

वैसे, राजद और जेडीयू की तरफ से भी गोपालगंज के चुनावी कार्यक्रम की तस्वीर जारी की गई है। ललन सिंह ने भी ट्वीटर पर जनसभा की तस्वीर लगाई है,जिसमें अच्छी भीड़ दिख रही. हालांकि महागठबंंधन नेताओं ने जो भी तस्वीर को शेयर किया है वो आगे से ली गई है। यानी बिहार की राजनीति में तस्वीों के माध्यम से एक-दूसरे को नीचा दिखाने की कोशिश जारी है।  


Find Us on Facebook

Trending News