बाप ने 5 साल पहले मरे अपने बेटे को जिंदा बताकर कराया 85 लाख का बीमा, फर्जीवाड़े का खुलासा...जानिए पूरी खबर

बाप ने 5 साल पहले मरे अपने बेटे को जिंदा बताकर कराया 85 लाख का बीमा, फर्जीवाड़े का खुलासा...जानिए पूरी खबर

PATNA:  फर्जीवाड़ा बीमा कंपनियों को चूना लगाने के बड़े मामले का खुलासा हुआ है। 5 साल पहले मरे व्यक्त के नाम पर 3 अलग-अलग बीमा कंपनियों से करीब 85 लाख का बीमा कराकर क्लेम की राशि हड़पने का मामला सामने आया है। इस संबंध में आईसीआईसीआई प्रुडेंसियल लाईफ इंशोरेन्स कंपनी ने अभियुक्तों के खिलाफ पटना के गांधी मैदान थाने में मामला दर्ज कराया है।

वैशाली के रहने वाले रंधीर कुमार की मृत्यु के करीब 5 साल बाद उनके नाम से आईसीआईसीआई प्रुडेंसियल एवं अन्य 3 और बीमा कंपनियों से करीब 85 लाख का बीमा जून एवं जुलाई 2014 में कपटपूर्वक बीमा की राशि प्राप्त करने के उद्देश्य से अलग-अलग बीमा कराई गई।

रंधीर कुमार के नाम पर आईसीआईसीआई प्रुडेंसियल लाईफ इंशोरेन्स कंपनी से 30 लाख का बीमा 26 जुलाई 2014 को कराई थी। इसके अलावा श्री राम लाईफ से 10 लाख और 9 लाख, एचडीएफसी से 30 लाख, फ्यूटर जेनरल से 6 लाख 80 हजार का बीमा कराया गया था। सभी पालिसी में नामिनी के रुप में रंधीर कुमार के पिता राजेन्द्र राय का नाम दर्ज कराया गया था।

बताया जा रहा है कि रणधीर कुमार की मृत्यु 3 फरवरी 2015 को बिजली के झटका से हुई बताई गई जबकि उसकी मृत्यु करीब 5 साल पहले ही हो गई थी। आईसीआईसीआई प्रूडेंसियल लाईफ इंशोरेन्स कंपनी ने कहा है कि अभियुक्तों द्वारा एक मृत व्यक्ति के नाम पर फर्जीवाड़ा करके अवैध लाभ लेने का प्रयास किया गया है। 

बीमा कंपनी के एडवाइजर दनियावां पटना के निवासी कृष्ण चंद्र सिंह, वैशाली के निवासी राजेन्द्र राय एवं अज्ञात अभियुक्तों के विरुद्ध आवश्यक कानूनी कार्रवाई की मांग की गई है।


Find Us on Facebook

Trending News