भाजपा के बागियों को लोजपा का सिंबल, 22 बागी उम्मीदवारों को जदयू के खिलाफ लोजपा ने चुनाव मैदान में उतारा

भाजपा के बागियों को लोजपा का सिंबल, 22 बागी उम्मीदवारों को जदयू के खिलाफ लोजपा ने चुनाव मैदान में उतारा

पटना... बिहार चुनाव में लोजपा ने सबसे अधिक 22 टिकट भाजपा के बागियों को दिया है। इतनी अधिक सीटें किसी और दल के बागियों को किसी पार्टी ने नहीं दिया है। इन 22 में से 21 उम्मीदवार जदयू के खिलाफ मैदान में उतरे हैं। वहीं एक उम्मीदवार बनियापुर से वीआईपी के खिलाफ है। हर चरण में भाजपा से आए ऐसे नेता हैं जो उन सीटों पर खड़े हैं, जहां से जदयू ने प्रत्याशी उतारा है।  

गौरतलब हो कि लोजपा ने पहले ही एलान कर दिया था कि वह भाजपा के खिलाफ अपना उम्मीदवार नहीं उतारेगी। हालांकि छह सीटों पर लोजपा और भाजपा के खिलाफ दोस्ताना लड़ाई है। पर, खासकर जो भाजपा से आए हैं, उन्हें लोजपा ने जदयू के खिलाफ ही अपना सिम्बल दिया है। हालांकि इन बागियों का चुनाव में क्या प्रदर्शन रहता है, यह तो मतगणना के बाद ही पता चलेगा। लोजपा के टिकट पर लड़ रहे कई ऐसे चेहरे हैं जो भाजपा में बड़े पदों पर रहे हैं और लंबे समय से उनके साथ है। 

पहले चरण में ऐसे नेताओं में दिनारा से राजेंद्र सिंह, सासाराम से रामेश्वर चैरसिया, पालीगंज से उषा विद्यार्थी, झाझा से डॉ रवींद्र यादव, जहानाबाद से इन्दु कश्यप, घोषी से राकेश कुमार सिंह, संदेश से श्वेता सिंह और अमरपुर से मृणाल शेखर शामिल हैं। 

दूसरे चरण की बात करें तो ऐसे नेताओं में रघुनाथपुर से मनोज कुमार सिंह, जीरादेई से विनोद तिवारी, गौड़ाबौराम से राजीव कुमार ठाकुर, दरभंगा ग्रामीण से प्रदीप कुमार ठाकुर, महाराजगंज से कुमार देव रंजन सिंह, बनियापुर से तारकेश्वर सिंह, एकमा से कामेश्वर सिंह मुन्ना। 

इसी प्रकार सुगौली से विजय प्रसाद गुप्ता, रानीगंज से परमानंद ऋषिदेव, अररिया से चंद्रशेखर सिंह बबन, कदवा से चंद्रभूषण ठाकुर, लौकहा से प्रमोद कुमार प्रियदर्शी, मधेपुरा से साकार सुरेश यादव और बरारी से विभाषचंद्र चैधरी शामिल हैं। गौरतलब हो कि लोजपा के कुल 136 प्रत्याशी मैदान में उतरे, जिनमें दो का मखदुमपुर और फुलवारी में नामांकन रद्द हो गया। इस तरह अब 134 उम्मीदवार मैदान में हैं।  


Find Us on Facebook

Trending News