लोजपा-राजद में है अंदरूनी समझौता! आखिर चिराग के खास सांसद ने अपने बेटे को क्यों किया तेजस्वी के हवाले?

लोजपा-राजद में है अंदरूनी समझौता!  आखिर चिराग के खास सांसद ने अपने बेटे को क्यों किया तेजस्वी के हवाले?

Patna: लोजपा सुुप्रीमो चिराग पासवान ने जेडीयू के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार को एनडीए का चेहरा मानने से इंकार कर दिया है। इसके साथ ही चिराग ने जेडीयू कैंडिडेट के खिलाफ उम्मीदवार उतारने की भी घोषणा कर दी है। लोजपा सुप्रीमो ने बीजेपी के साथ गठबंधन बने रहने की भी बात कही है।चिराग पासवान के इस निर्णय पर जेडीयू के क्लियर कर दिया है कि इससे एनडीए गठबंधन को कोई नुकसान नहीं होगा। इन सब के बीच लोजपा नेताओं का तेजस्वी प्रेम जाहिर होने लगा है। चिराग पासवान के करीबी सांसद के पुत्र के राजद में शामिल होने के बाद अब इसके कयास लगने शुरू हो गये हैं कि क्या लोजपा नेताओं की तेजस्वी यादव से नजदीकी बढ़ने लगी है?

चिराग के खास सांसद के बेटे ने राजद का थामा दामन

बता दें कि आज सोमवार को खगड़िया से लोकसभा सांसद महबूब अली कैसर के बेटे ने राजद की सदस्यता ग्रहण की है.तेजस्वी यादव ने लोजपा सांसद के बेटे को अपने आवास पर बुलाकर पार्टी की सदस्यता दिलाई है।साथ ही यह भी बताया जा रहा है कि तेजस्वी यादव उन्हें चुनाव मैदान में भी उतारेंगे।

लोजपा सांसद के बेटे ने चिराग की बजाए तेजस्वी को माना अपना नेता

आपको बता दें एक तरफ चिराग पासवान बिहारी फर्स्ट- बिहार फर्स्ट का नारा दे रहे हैं. यूथ को पॉलिटिक्स में मजबूत करने पर जोर दे रहे हैं वहीं उनके ही खास सांसद के बेटे ने चिराग पासवान के बजाए तेजस्वी यादव पर भरोसा दिखाया है और राजद में शामिल हुए हैं. लोजपा के प्रधान महासचिव शाहनवाज कैफी ने यूसुफ कैसर के आरजेडी ज्वाइन करने पर कहा कि लोजपा को कोई फर्क नहीं पड़ने वाला है. यूसुफ कैसर पहले भी लोजपा में कोई काम नहीं कर रहे हैं. अगर यूसुफ कैसर चुनाव भी लड़ेंगे तो जीतेंगे नहीं.

Find Us on Facebook

Trending News