सक्सेस लॉकडाउन से 161 गुणा कम हो सकते हैं कोरोना के केस, वैज्ञानिकों ने समझा दिया है लॉकडाउन का पूरा फार्मूला

सक्सेस लॉकडाउन से 161 गुणा कम हो सकते हैं कोरोना के केस, वैज्ञानिकों ने समझा दिया है लॉकडाउन का पूरा फार्मूला

DESK : कोरोना के खतरे को कम करने के लिए पुरे देश को 21 दिनों तक लॉकडाउन किया गया है. हो सकता है कि 21 दिन का लॉकडाउन आपको परेशान कर रहा हो, लेकिन कोरोना जैसे संक्रामक वायरस को रोकने के लिए संपूर्ण लॉकडाउन ही सबसे कारगर उपाय है.

अमेरिका के मिशिगन विश्वविद्यालय का अध्ययन बताता है कि एक सप्ताह के संपूर्ण लॉकडाउन से कोरोना का संभावित संक्रमण 161 गुना तक कम हो जाता है. यह यातायात और सोशल क्वारंटाइन जैसे उपायों से कहीं ज्यादा कारगर है.

अध्ययन में बताया गया है कि यदि कोरोना वायरस को रोकने के लिए कोई उपाय नहीं किए गए तो 15 मई तक प्रति एक लाख आबादी में से 161 लोग कोरोना के संक्रमण का शिकार बन जाएंगे. 

अगर देशभर में इस दौरान यातायात प्रतिबंधित कर दिया जाए तो यह संख्या घटकर प्रति लाख आबादी पर 48 रह जाएगी. यातायात प्रतिबंध के साथ अगर लोगों को सोशल क्वारंटाइन कर दिया जाए तो भी प्रति लाख 4 लोग इस संक्रमण का शिकार होंगे. वहीं, एक सप्ताह का संपूर्ण लॉकडाउन कोरोना संक्रमण को एक व्यक्ति प्रति लाख आबादी पर ला सकता है. विशेषज्ञों की मानें तो तीन सप्ताह का लॉकडाउन कोरोना वायरस के संक्रमण को पूरी तरह निष्प्रभावी कर सकता है.

Find Us on Facebook

Trending News