अपराधियों पर नकेल कसने में जुटी बिहार पुलिस, कुख्यातों की बनाई जा रही लिस्ट, हॉस्टल और लॉज पर भी होगी नजर

PATNA : प्रदेश में अपराध पर नियंत्रण को लेकर पुलिस ने अपराधियों पर नकेल कसना शुरु कर दिया है। पुलिस जहां कुख्यात अपराधियों को गिरफ्तार करने के लिए लगातार छापेमारी कर रही है। वहीं उनके घरों की कुर्की जब्ती कर उनपर दबाव बनाने में जुटी है। 

आज एडीजी कुंदन कृष्णन ने बताया कि राज्य को अपराधमुक्त बनाने के लिए पुलिस की ओर से कई महत्वपूर्ण कदम उठाए गये है। इसी कड़ी में फरार अपराधियों पर नकेल कसने को लेकर उनके घरों की कुर्की जब्ती की कार्रवाई की जा रही है। अबतक 2096 वांछित अपराधियों पर नकेल कसने की प्रक्रिया में कुर्की जब्ती की गई है। वहीं कुर्की जब्ती की कार्रवाई के बाद कुख्यात अपराधियों द्वारा सरेंडर किए जाने का सिलसिला शुरु हो गया है। 

एडीजी ने बताया कि पुलिस कार्रवाई और कुर्की जब्ती के भय से अबतक 111 कुख्यात फरार अपराधियों ने आत्मसमर्पण किया है।

उन्होंने बताया कि प्रदेश के सभी एसपी और डीएसपी को निर्देशित किया गया है कि लोकसभा चुनाव के पहले वैसे सभी अपराधियों की लिष्ट बनाएं जो आपराधिक कांड में फरार चल रहें है। 

बाइकर्स गैंग पर कसेगा नकेल

एडीजी मुख्यालय ने कहा कि अब प्रदेश में उत्पात मचाने वाले मनचलों जिनमें बाइकर्स गैंग तथा अन्य शामिल है जो सड़को पर समूह में निकल कर दहशत का माहौल पैदा कर रहें है उन्हें किसी हाल में बख्क्षा नहीं जायेगा। पुलिस उनकी पहचान करने और उनपर नकेल कसने की कवायद में जुटी है।

सड़कों पर उत्पात मचाने वाले ऐसे लोगों की पहचान के लिए अब शहर के सभी हॉस्टल औऱ लॉजों की तलाशी ली जायेगी। वहीं इनकों संरक्षण देने वालों की तलाश कर उनपर कार्रवाई होगी। 

बिहार के सभी थानों के हाजत के आगे लगेंगे सीसीटीवी कैमरे

कुन्दन कृष्णन ने कहा कि थानों की गतिविधियों पर भी नजर मुख्यालय के तरफ से रखा जा रहा है। कौन से अपराधी पकड़े गए और थाने के अंदर क्या-क्या गतिविधियां चल रही है, इसकी निगरानी के लिए बिहार के सभी थानों में सीसीटीवी लगाए जा रहे।

गूंजन खेमका हत्या मामले की चल रही है जांच, दोषी को मिलेगी सजा 

वहीं पटना के चर्चित व्यवसायी व बीजेपी नेता गूंजन खेमका हत्याकांड को लेकर उन्होंने कहा कि मामले की जांच चल रही है। ADG CID हर हफ्ते केश का रिव्यू कर रहे हैं। 

कुंदन की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News