नल जल योजना लूट खसोट का बना अड्डा, काम पूरा होने के बाद भी लोगों को लाभ नहीं

नल जल योजना लूट खसोट का बना अड्डा, काम पूरा होने के बाद भी लोगों को लाभ नहीं

खगड़िया।  बेलदौर प्रखंड में नल जल योजना लूट खसोट का कार्यक्रम बन कर रह गया है। प्रखंड मुख्यालय के गेट के सामने जल नल योजना के हजारों लीटर पानी गड्ढे में बह रही है जिस कारण लाभुकों को शुद्ध पेयजल नहीं पहुंच रही है। वहीं वार्ड नंबर 18 में पेटी कॉन्ट्रैक्ट ठेकेदार मुन्ना कुमार गुप्ता 18 नंबर वार्ड में जल नल योजना का काम कर आधा अधूरा छोड़ दिया है। जिस कारण हजारों लीटर पानी गड्ढे में बहकर बर्बाद हो रहा है। 

 प्रखंड क्षेत्र में कुछ पंचायत के वार्डों को छोड़कर अब तक नल जल धरातल पर नहीं दिख रही है। जिससे वार्ड वासियों को शुद्ध पेयजल का लाभ नहीं मिल पा रहा है, ऐसा ही वाक्या बेलदौर प्रखंड क्षेत्र के कंजरी पंचायत के वार्ड नंबर 14 तिरासी का है। जिसको लेकर ग्रामीणों में आक्रोश व्याप्त है। वही दिघौन पंचायत के सुखाय बासा पंचायत मे नल जल योजना का पाइप सिर्फ सिर्फ 1 फीट गहराई में ही लगा दिया गया है, जबकि सरकार की तरफ से पाइप को पांच फीट गहराई में लगाने के निर्देश हैं। 

कहीं निर्माण के बाद भी लाभ नहीं, कहीं अधूरा हुआ काम

 सरकार धरातल पर उतारने के लिए अनेक प्रकार के योजनाएं लागू की है। लेकिन निचले क्षेत्रीय ठेकेदारों के द्वारा जल नल योजना को लूट खसोट का जरिया बना लिया है। इस संबंध में कैंजरी पंचायत के वार्ड नंबर 14 के वार्ड सदस्य जवाहर सिंह, ग्रामीण मंटू सिंह, कपिल देव सिंह, भोपल सिंह, निरंजन सिंह, नागौ सिंह, जयराम सिंह समेत दर्जनों ग्रामीणों ने बताया कि वार्ड नंबर 14 में करीब 1 वर्ष पूर्व पानी टंकी बनकर तैयार हो चुका, लेकिन उक्त पानी टंकी से 1 दिन भी ग्रामीणों को स्वच्छ पेयजल नसीब नहीं हो सका। जिसको लेकर ग्रामीणों में आक्रोश व्याप्त है। वहीं वार्ड नंबर 21 बेलदौर पंचायत में गड्ढे खोदकर कार्य एजेंसी फरार हो चुके हैं, छोटे-छोटे बच्चे उक्त गड्ढे में गिर जाने के बाद काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है। यदि उक्त वार्ड के ग्रामीण कार्य एजेंसी को कार्य करने के लिए कहते हैं तो कहता है कि अभी उक्त स्थल पर कार्य नहीं हो सकेगी।


Find Us on Facebook

Trending News