BIHAR NEWS : माँ बेटी की करंट की चपेट में आने से हुई मौत, ग्रामीणों ने विभाग पर लापरवाही का लगाया आरोप

BIHAR NEWS : माँ बेटी की करंट की चपेट में आने से हुई मौत, ग्रामीणों ने विभाग पर लापरवाही का लगाया आरोप

MUZAFFARPUR : जिले के पारु थाना क्षेत्र के मझौलिया गांव में खेत मे लगे पानी मे घोंघा चुनने गयी मां-बेटी की करंट लगने से दर्दनाक मौत हो गयी। पानी मे ही  दोनों ने दम तोड़ दिया। घटना की जानकारी गांव में आग की तरह फैल गई। काफी संख्या में लोगों की भीड़ जुट गई। डर के कारण कोई पानी मे नहीं जा रहा था कि कहीं उन्हें भी करंट नहीं लग जाये। इसके बाद बिजली विभाग को कॉल कर लाइन कटवाया गया। फिर स्थानीय लोगों ने ही पानी मे से दोनों का शव निकाला। मृतकों की पहचान फुलेश्वरी देवी(45) और उनकी बेटी सुमन कुमारी (16) के रूप में हुई है। सूचना मिलने पर पुलिस मौके पर पहुंची। घटना की जानकारी लेने के बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया।

विभाग की लापरवाही को लेकर आक्रोश

ग्रामीणों में घटना को लेकर आक्रोश व्याप्त है। उनका कहना है कि तार टूटा हुआ था। इसके बावजूद इसमें करंट प्रवाहित हो रहा था। अगर लाइन कटा हुआ होता तो दोनों की मौत नहीं होती। बताया जा रहा है कि तार टूट होने की सूचना बिजली विभाग के अधिकारियों को नही मिली थी। इसी कारण से लाइन चालू था। 

हर दिन जाती थी घोंघा चुनने

ग्रामीणों ने बताया की गांव के खेतों में वर्षा और बाढ़ का पानी भरा हुआ है। इसमे भरपूर मात्रा में घोंघा है। गांव के और भी पुरुष और महिलाएं इसमे से घोंघा पकड़ते हैं। कुछ बेचते हैं और बच जाने पर पका कर खाते हैं। दोनों मां-बेटी भी प्रतिदिन इसी खेत मे घोंघा चुनने जाया करती थी। आज भी गयी थी। लेकिन, तार टूटा हुआ था ये ठीक से नहीं देख सकी। तार टूटकर पानी मे डूब गया था। जब वे पानी मे गयी तब लाइन कटा हुआ था। दोनों आराम से घोंघा चुनने में व्यस्त थी। तभी लाइन आ गया। दोनों इसमे तड़प-तड़प कर मर गयी। वही पूरे मामले में पूछे जाने पर एसडीओ पश्चिमी ने कहा कि सरकारी नियमानुसार उचित मुआवजा राशि दी जाएगी। साथ ही सम्बंधित अधिकारी को जाँच का भी निर्देश दिया गया है ।

मुजफ्फरपुर से गोविन्द की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News