मधुबनी के लोग होते हैं भिखारी,जनेऊ पहनकर करते हैं पाखंड,अधिकारी के इस हरकत के बाद कांग्रेस MLC ने सहकारिता मंत्री से कार्रवाई करने को कहा

मधुबनी के लोग होते हैं भिखारी,जनेऊ पहनकर करते हैं पाखंड,अधिकारी के इस हरकत के बाद कांग्रेस MLC ने सहकारिता मंत्री से कार्रवाई करने को कहा

PATNA: मधुबनी जिला के लोग भिखारी होते हैं,जनेऊ पहनकर करते हैं पाखंड।सोशल मीडिया पर मधुबनी के जिला सहकारिता पदाधिकारी और एक सामाजिक कार्यकर्ता के बीच बातचीत का ऑडियो वायरल हो रहा है।इस संबंध में झंझारपुर के एक शख्स ने मधुबनी डीएम से जिला सहकारिता पदाधिकारी की शिकायत की है और कार्रवाई की मांग की है।

हरेराम मिश्रा ने आरोप लगाया है कि जब वे सहकारिता पदाधिकारी को योजना के बारे में जानकारी लेने के लिए फोन किया तो उन्होंने अभद्रता की है. साथ हीं पूरे मधुबनी जिला और खास कर ब्राहमण समाज को अपमानित करने का काम किया है।डीएम को दिए गए आवेदन में सहकारिता पदाधिकारी पर आरोप लगाया गया है कि उन्होंने जाति सूचक गाली दिया है।साथ हीं उन्होंने फोन पर कहा कि मधुबनी जिला के लोग भिखारी हैं यहां के लोग सरकारी अनुदान के पीछे हमेशा लगे रहते हैं।यहां के लोग जनेऊ पहनकर पाखंड करते हैं।आवेदक हरेराम मिश्र ने डीएम को पूरी बातचीत का ऑडियो भी उपलब्ध कराया है।साथ हीं मांग किया है कि उनके इस व्यवहार से पूरे समाज को चोट पहुंचा है।इसलिए उपर सख्त कार्रवाई होनी चाहिए। 

प्रेमचंद मिश्रा ने सहकारिता मंत्री को लिखा पत्र

वहीं इस मामले में कांग्रेस विधानपार्षद ने आरोपी जिला सहकारिता पदाधिकारी पर कार्रवाई की मांग किया है।कांग्रेस एमएलसी ने सहकारिता मंत्री को पत्र लिखकर इस तरह के व्यवहार करने वाले सहकारिता पदाधिकारी को तत्काल निलंबित करने की मांग की है।प्रेमचंद मिश्रा ने कहा कि किसी अधिकारी को यह अधिकार नहीं है कि पूरे जिले के लोगों और एक खास समाज के लोगों पर कटाक्ष करे या फिर अपमानित करे। मधुबनी के सहकारिता पदाधिकारी ने गलत किया है और सरकार को कार्रवाई करनी चाहिए।अगर सरकार कार्रवाई नहीं करेगी तो फिर हम आगे सदन में इस मामले को उटायेंगे।

Find Us on Facebook

Trending News