मगध इंटरनेशनल स्कूल टिकारी ने मनाया 10 वां स्थापना दिवस, निदेशक ने कर्मियों को किया सम्मानित

मगध इंटरनेशनल स्कूल टिकारी ने मनाया 10 वां स्थापना दिवस, निदेशक ने कर्मियों को किया सम्मानित

GAYA : आज 'मगध इंटरनेशनल स्कूल, टिकारी' द्वारा विद्यालय का 10 वाँ स्थापना दिवस बड़े हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। स्थापना के नौ वर्ष पूरे होने एवं दसवें वर्ष में प्रवेश करने के अवसर पर आज विद्यालय परिसर के समारोह कक्ष में आयोजित कार्यक्रम की शुरुआत विद्यालय के निदेशक सुधीर कुमार, उपनिदेशक अमित कुमार झा' एवं प्राचार्य अभिषेक कुमार' के द्वारा दीप प्रज्ज्वलित कर किया गया। तत्पश्चात एक शानदार स्वागत भाषण द्वारा छात्र-छात्राओं ने उपस्थित अतिथियों का स्वागत किया।  

आज के समारोह में स्थापना सप्ताह के दौरान प्री नर्सरी से लेकर दसवीं कक्षा तक के लिए आयोजित विभिन्न प्रतियोगिताओं के प्रथम तीन विजेताओं को विद्यालय के निदेशक  सुधीर कुमार' के द्वारा प्रमाण पत्र देकर सम्मानित किया गया। साथ ही कुमार ने सभी विजेताओं को उज्ज्वल भविष्य की शुभकामनाएँ देते हुए कठिन परिश्रम करते रहने का मंत्र दिया। इन प्रतियोगिताओं में सबसे खास था निदेशक सुधीर कुमार' के द्वारा दसवीं कक्षा के बच्चों का बुद्धि परीक्षण। कठिन और दिमाग को घुमा देनेवाले सवालों से लैस इस बुद्धि परीक्षण का आयोजन कुमार ने दसवीं के बच्चों की बोर्ड परीक्षाओं की तैयारियों को चुनौती देने की नियत से अपनी देख-रेख में कराया था।  

स्थापना दिवस समारोह में विद्यालय में पाँच वर्ष या उससे अधिक समय से कार्यरत शैक्षिक एवं गैर-शैक्षिककर्मियों को उपहार देकर सम्मानित किया। इस अवसर पर विद्यालय के निदेशक सुधीर कुमार' ने कहा कि विद्यालय जैसे संस्थान की सफलता में उसमें काम करने वाले लोगों की भूमिका सबसे महत्वपूर्ण होती है। उससे भी अधिक महत्वपूर्ण यह है कि आपके संस्थान में काम करने वाले लोग लंबी अवधि तक संस्थान से जुड़े रहे। हमारे संस्थान का हर व्यक्ति हमारे लिए महत्वपूर्ण है। 

अगर टिकारी जैसे छोटे शहरी क्षेत्र में 'मगध इंटरनेशनल स्कूल' एक बड़ा और सफल नाम बन कर उभरा है तो इसके पीछे विद्यालय के संस्थापक रामनरेश शर्मा का कुशल मार्गदर्शन एवं निदेशक सुधीर कुमार के संवेदनशील व्यक्तित्व का भी अहम योगदान है। जिस जमाने में लोग वर्तमान में कार्यरत कर्मचारियों से सीधे मुँह बात नहीं करते, उस दौर में पूर्व कर्मियों को आमंत्रित कर सम्मानित करना और उनके योगदानों की सराहना करना अपने आप में संवेदनशीलता का बेहतरीन उदाहरण है। आज के समारोह में विद्यालय में पूर्व में अपनी सेवाएँ प्रदान कर चुके अनेक शिक्षक और गैर शैक्षिकर्मियों का भी भव्य सत्कार किया गया। इस भव्य समारोह का समापन आत्मीय माहौल में आयोजित प्रीतिभोज के साथ हुआ।

Find Us on Facebook

Trending News