महागठबंधन ने खेला इमोशनल कार्ड, कहा-लालू प्रसाद के साथ पाकिस्तानी जेल में बंद भारतीय कैदियों जैसा व्यवहार किया जा रहा

पटना- रिम्स में लालू प्रसाद से मुलाकात पर रोक के बाद महागठबंधन नेताओं ने इमोशनल कार्ड खेला है. महागठबंधन के सभी बड़े नेताओं ने एक साथ प्रेस कांफ्रेंस कर बीजेपी और जेडीयू पर बड़ा हमला बोला है. नेताओं ने एक स्वर से आरोप लगाते कहा कि राजद सुप्रीमो के साथ अत्याचार किया जा रहा है. लालू प्रसाद से जिस तरह का व्यवहार किया जा रहा उतना तो पाकिस्तानी जेल में बंद भारतीय कैदी के साथ भी नहीं किया जाता. यह सब पीएम मोदी और बिहार के सीएम नीतीश कुमार के इशारे पर किया जा रहा है.

नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने कहा कि लालू प्रसाद जेल में बंद हैं. कोर्ट ने ही शनिवार के दिन मुलाकात का दिन तय किया है. लेकिन अब उनसे मुलाकात नहीं करने दिया जा रहा. वे बीमार हैं उनको जांच की अवश्यकता है लेकिन सुरक्षा कारणों का हवाला देते हुए उनकी जांच नही करवाई जा रही. लालू प्रसाद के साथ पूरे तौर पर अमानवीय़ व्यवहार किया जा रहा है. तेजस्वी ने कहा कि जनता सब देख रही है. हम इस मुद्दे को जनता के बीच ले जायेंगे. बिहार की जनता इसका बदला जरूर लेगी.

वहीं पूर्व सीएम जीतनराम मांझी ने भी आरोप लगाया कि लालू प्रसाद के साथ नाइंसाफी की जा रही है. जेल मैनुअल के खिलाफ जाकर वहां की सरकार नीतीश कुमार के इशारे पर काम कर रही है.

वहीं आरएलएसपी अध्यक्ष उपेन्द्र कुशवाहा ने तो लालू प्रसाद के बारे में एक कदम आगे बढ़ते हुए कहा कि जिस तरह से लालू प्रसाद के साथ बर्ताव किया जा रहा उस तरह से पाकिस्तानी जेल में बंद भारतीय कैदियों के साथ भी अमानवीय व्यवहार नहीं होता. कुशवाहा ने कहा कि वे लोग इस मुद्दे को जनता की अदालत में ले जा रहे हैं. जनता की अदालत में ही इसका निर्णय होगा. 


Find Us on Facebook

Trending News