अब्दुल बारी सिद्दीकी ने महागठबंधन की एकता की खोल दी पोल, कहा- काश आज भी कोई लोहिया पैदा लेता

अब्दुल बारी सिद्दीकी ने महागठबंधन की एकता की खोल दी पोल, कहा- काश आज भी कोई लोहिया पैदा लेता

PATNA: लोकसभा चुनाव में मिली करारी शिकस्त के बाद आज पहली बार किसी सार्वजनिक समारोह में बिहार महागठबंधन के नेता एक साथ जुटे हैं। लोहिया की पुण्यतिथि के बहाने महागठबंधन ने अपनी एकजुटता दिखाने की भरपूर कोशिश की है। समारोह को संबोधित करते हुए आरजेडी के वरिष्ठ नेता अब्दुल बारी सिद्दीकी ने इशारों-इशारों में ही महागठबंधन की एकजुटता पर  निशाना साध दिया।  सिद्दीकी ने कहा  कि आज की राजनीति में लोहिया की कमी खलती है। डॉ राममनोहर लोहिया सभी को साथ लेकर चलते थे। उन्होंने कहा कि आज ऐसे नेता की कमी है जो सबको साथ लेकर चल सके।

बता दें कि लोहिया की 52वीं पुण्यतिथि पर आयोजित कार्यक्रम में महागठबंधन के तमाम बड़े नेता शिरकत कर रहे हैं।बापू सभागार में आयोजित कार्यक्रम में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव, रालोसपा प्रमुख उपेंद्र कुशवाहा, शरद यादव, मुकेश साहनी समेत वामपंथी नेता भी मौजूद हैं। पूरे बिहार से महागठबंधन के नेताओं और कार्यकर्ताओं के लाया गया है।

कार्यक्रम को संबोधित करते हुए रालोसपा प्रमुख व पूर्व केन्द्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि बिहार में अब सरकार नाम की कोई चीज नहीं रह गई है। प्रतिदिन प्रदेश के किसी न किसी जिले से हत्या, लूट और बलात्कार की घटना सामने आ रही है। प्रदेश में कानून व्यवस्था पूरी तरह से खत्म हो चुका है।  


Find Us on Facebook

Trending News