बिहार में वेब सीरिज "महारानी" पर छिड़ा महासंग्राम, रोहिणी आचार्या ने जमकर निकाली भड़ास

बिहार में वेब सीरिज "महारानी" पर छिड़ा महासंग्राम, रोहिणी आचार्या ने जमकर निकाली भड़ास

PATNA : बेब सीरीज महारानी सोनी लिव के नए वेब  सीरिज को लेकर बिहार की सियासत गरमाई हुई है. राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव की पत्नी और बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी से जोड़कर देखे जा रहे इस वेब सीरीज को लेकर लालू-राबड़ी की बेटी रोहिणी आचार्या ने नाराजगी जताई हैं. दरअसल, बिहार में राबड़ी देवी के मुख्यमंत्री बनने की कहानी से प्रेरित बताकर कई लोग इसका मजाक भी उड़ा रहे हैं. ऐसे में सोशल मीडिया पर खूब एक्टिव रहने वाली लालू यादव की बेटी रोहिणी आचार्य ने अपनी मां पूर्व मुख्यमन्त्री राबड़ी देवी के साथ एक फोटो शेयर करके बुद्धिजीवी शब्द पर खूब वार किया है.

रोहिणी ने लिखा है- बालिकागृह कांड भी एक धारावाहिक का हिस्सा नहीं था बिहार के इतिहास में दर्ज हुआ काला धब्बा है. पढ़े-लिखे बुद्धिजीवी के ही द्वारा रचा गया राक्षसी कारनामा है. श्रीमती राबड़ी देवी को अनपढ़ महिला कहकर उपहास उड़ाने वाले उन बुद्धिजीवी राक्षसों का जवाब है.

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर आक्रामक होते हुए रोहिणी आचार्या ने कहा कि कोरोना में अनाथ हुए बच्चों को हर माह 1500 रुपये दिए जाने की घोषणा है. साथ ही रोहिणी ने एक दूसरा ट्वीट करते हुए लिखा कि यही फुर्ती पहले दिखला जाते. ऑक्सीजन, वेंटिलेटर और हॉस्पिटल को समय रहते चुस्त-दुरुस्त कर लिया होता तो हजारों जानें तड़प-तड़प कर यूं न गई होतीं. हर बार की भांति अपनी नाकामी को छुपाने का यही तेरा चाल है. क्या बुद्धिजीवियों का यही काम है? 

पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी भी सरकार को घेर रही हैं. उन्होंने ट्वीट कर कहा है कि बिहार के एक-एक गांव में 100-100 लोग मर रहे हैं, लेकिन फिर भी नीतीश सरकार सो रही है.

पटना से वंदना शर्मा की रिपोर्ट 



Find Us on Facebook

Trending News