दस दिन के काम की मजदूरी मांगना पड़ा महंगा, पैसे की जगह श्रमिक को दी मौत की सजा

दस दिन के काम की मजदूरी मांगना पड़ा महंगा, पैसे की जगह श्रमिक को दी मौत की सजा

मोतिहारी। ढाका थाना क्षेत्र के रक्सा गांव में मजदूरी मांगना मजदूर को महंगा पड़ा। दबंगो ने मजदूर की पीट पीट कर हत्या कर शव को उसके घर मे लाकर फेंक दिया। सूचना पर पहुची पुलिस ने शव को बरामद कर पोस्टमार्टम के लिए भेज कर करवाई में जुट गई है। घटना शनिवार देर रात्रि की बतायी जा रही है।मृतक की पहचान निजामुदीन 25 वर्ष के रूप में की गई है।

परिजनों के अनुसार गांव के ही एक घर मे महीनों से मृतक कार्य करता था। जब मजदूरी की पैसा मांगने गया तो पैसा नहीं दिया गया। मृतक के भाई ने बताया कि पैसे के लिए शोएब और श्याम सुंदर नाम का व्यक्ति कई दिनों से पैसे के लिए भटका रहा था। भाई ने बताया कि शोएब के घर बनाने के दस दिन की मजदूरी बाकी था। जिसके लिए वह लगातार परेशान कर रहे थे। भाई का आरोप है कि निजामुद्दीन की पीट पीटकर हत्या कर दी गई है. हत्या करने के बाद श्रमिक के शव को वह घर तक छोड़ भी आए।  जिसके बाद परिवार में हड़कंप मच गया।

जांच में जुटी पुलिस

परिजनों गांव के एक दंबग पर मजदूरी मांगने पर पीट पीट कर हत्या करने का आरोप लगाया है। सूचना पर पहुची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए मोतिहारी भेज दिया है।वही पुलिस अग्रतर करवाई में जुट गई है।


Find Us on Facebook

Trending News