मांझी ने RJD दफ्तर में 'नाच' पार्टी को बताया 'शर्मनाक', लालू यादव बीमार और राजद को नाच-गाने का कार्यक्रम सूझ रहा

मांझी ने RJD दफ्तर में 'नाच' पार्टी को बताया 'शर्मनाक', लालू यादव बीमार और राजद को नाच-गाने का कार्यक्रम सूझ रहा

PATNA: राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव की तबीयत खराब है। शनिवार को उन्हें आनन-फानन में रिम्स से एयर एंबुलेंस से एम्स ले जाया गया है। नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव और राबड़ी देवी उन्हें लेकर दिल्ली गए हैं जहां एम्स में इलाज जारी है। इधर, आज कर्पूरी ठाकुर की जयंती है। लिहाजा प्रदेश कार्यालय में समारोह आयोजित की गई। राजद प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह ने पूरी वफादारी दिखाते हुए उनके लिए मंच पर कुर्सी लगवाई और उसे खाली रखा। वहीं कर्पूरी ठाकुर की जयंती पर राजद दफ्तर में सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। जिस पर पूर्व सीएम जीतनराम मांझी ने तंज कसा है।

राजद दफ्तर में नाच पार्टी को मांझी ने बताया शर्मनाक

जीतनराम मांझी ने ट्वीट कर राजद को घेरा है. उन्होंने कहा कि लालू प्रसाद का स्वास्थ्य ख़राब हुआ तो उनके बेटे तेजप्रताप यादव को मंच पर जगह तक नहीं दी गई यह राजद का आंतरिक मामला हो सकता है, पर लालू जी जैसे जन नेता के बीमार होने के बावजूद उनके पार्टी द्वारा इस तरह का नाच/गाने का कार्यक्रम कराना गंदे मानसिकता को दर्शाता है। शर्मनाक....। 

तेजस्वी के सम्मान में कोई कसर नहीं छोड़ना चाहते जगदा बाबू

तेजस्वी यादव दिल्ली में हैं लिहाजा वे पटना में आयोजित कार्यक्रम में शामिल नहीं हो सकते थे। जगदानंद सिंह यह जानते हुए भी उनके प्रति पूरी वफादारी और सम्मान दिखाते हुए मंच पर उनके लिए सोफा लगावाया। उस सोफे पर तेजस्वी यादव और तेजप्रताप यादव का नेम प्लेट लगाया गया। तेजस्वी यादव तो पटना में हैं नहीं लिहाजा वे तो आ नहीं सकते थे लेकिन तेजप्रताप यादव पटना में होने के बाद भी नहीं आये। अंत समय तक सोफा खाली रहा। सोफे के अगल-बगल नेता बैठे रहे और कर्पूरी ठाकुर की सादगी के बारे में बखान कर उनके पद चिन्हों पर चलने का संकल्प लेते रहे।

कर्पूरी ठाकुर जब सीएम थे तब भी उनके पास गाडियां नहीं थी,आज तो.....

 कर्पूरी ठाकुर जयंती समारोह में बोलते हुए अब्दुल बारी सिद्दीकी ने कहा कि कुछ लोग जयंती तो मना रहें लेकिन उनका दोहरे चरित्र है। वे लोग सिर्फ वोट लेने के खातिर मनाने का काम करते हैं.  ना तो कोई जननायक कर्पूरी ठाकुर बन पाया है और ना बन पाएगा.सिद्दीकी ने आगे कहा कि कर्पूरी ठाकुर मुख्यमंत्री थे तब उनके पास गाड़ियां नहीं थी. आजकल तो मुख्यमंत्री फॉर्च्यूनर से लेकर तमाम बड़ी गाड़ियों से घूम रहे हैं. ज


Find Us on Facebook

Trending News