CM नीतीश के सामने 'मांझी' का सरेंडर! कहा- कुछ दिनों से कंफ्यूजन फैलाया जा रहा था, राज्य हित में NDA की मजबूती जरूरी

CM नीतीश के सामने 'मांझी' का सरेंडर! कहा- कुछ दिनों से कंफ्यूजन फैलाया जा रहा था, राज्य हित में NDA की मजबूती जरूरी

PATNA: बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से मुलाकात के अगले दिन पूर्व मुख्यमंत्री व एनडीए के सहयोगी जीतनराम मांझी ने आज अपनी चुप्पी तोड़ी है। मांझी ने साफ कर दिया कि कुछ दिनों से HAM को लेकर जो राजनीतिक चर्चा चल रही उसमें कोई दम नहीं है। पूर्व सीएम ने कहा कि राज्य और देश हित में एनडीए को मजबूत रखना है। यूं कहें कि जीतनराम मांझी ने सीएम नीतीश से मुलाकात के दौरान अपने आप को सरेंडर कर दिया। बता दें, बिहार में मांझी को लेकर यह तेज चर्चा थी कि वे लालू यादव के संपर्क में हैं और बहुत जल्द पाला बदल सकते हैं। इसके बाद गुरूवार को मांझी सीएम नीतीश से मुलाकात करने मुख्यमंत्री आवास गये। दोनों नेताओं के बीच करीब 1 घंटे तक बातचीत हुई थी। 

पूर्व सीएम का सरेंडर

पूर्व सीएम जीतनराम मांझी ने सीएम नीतीश कुमार से मुलाकात पर कहा कि पिछले कुछ दिनों से कई तरह के कन्फ्यूजन फैलाया गया था . लिहाजा अब उन्हें सामने आना पड़ा। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री से मुलाकात के दौरान हमने कहा कि देश और राज्य हित मे एनडीए को मजबूत रखना है. मांझी ने कहा कि कई अन्य विषयों पर भी सीएम नीतीश से चर्चा हुई। बाढ़ राहत पर भी बातचीत हुई है। 

लोजपा विवाद पर बोलने से बचते रहे मांझी

वहीं, लोजपा में चल रहे विवाद पर पूर्व सीएम जीतनराम मांझी ने बोलने से जीतन राम मांझी ने किया परहेज  किया। उन्होंने कहा कि लोजपा विवाद उनका अंदरूनी मामला है। चिराग पासवान और पशुपति पारस के बीच की लड़ाई है और दोनों आपस फरिया लें, मुझे कुछ नही कहना है .हम यह नही कह सकते कि ठीक हुआ या गलत । उन्होंने कहा कि लोजपा के नेता और कार्यकर्ता ही गलत-सही का फैसला लेंगे। 

Find Us on Facebook

Trending News