पटना में हाई प्रोफाइल मर्डर को असामयिक निधन बता बुरे फंसे मंत्री जी, हद पार किया तो जनता ने उतार दिया पानी

पटना में हाई प्रोफाइल मर्डर को असामयिक निधन बता बुरे फंसे मंत्री जी, हद पार किया तो जनता ने उतार दिया पानी

PATNA: पटना में बेखौफ अपराधियों के एक्शन से न सिर्फ राजधानी बल्कि पूरा बिहार सहम उठा है. अब लोगों को लगने लगा है कि वाकई में बिहार में जंगलराज आ गया। मंगवार की देर शाम इंडिगो एयरलाइंस के स्‍टेशन हेड रुपेश सिंह की गोली मारकर हत्‍या किये जाने के बाद सीएम नीतीश का सुशासन कटघरे में है।इस घटना पर बिहार सरकार के मंत्री की निर्ममता की पराकाष्ठा सामने आ गई है.मंत्री जी ने जब हद पार किया तो उनके ही चाहने वाले लोगों ने माननीय का पानी उतार दिया.

मंत्री जी ने जब हद पार किया तो जनता ने पानी उतार दिया

इंडिगो के स्टेशन मैनेजेर रूपेश सिंह को राजधानी पटना में सरेशाम उनके घऱ के बाहर वीआईपी इलाके में गोलियों से भून दिया गया। मंत्री जी इंडिगो के स्टेशन मैनेजर रूपेश सिंह को बखूबी और बहुत नजदीक से जानते-पहचानते थे। ऐसा हो भी क्यों नहीं,क्यों कि इंडिगो के स्टेशन मैनेजर रूपेश सबके चहेते और दुलारे थे। उनसे हर बड़े लोगों को जरूरत पड़ती थी और उसे वे बखूबी निभाते भी थे। लेकिन विडंबना देखिए कि जब रूपेश सिंह को सरेशाम सीएम आवास से 1 किमी की दूरी पर उनके अपार्टमेंट के आगे शाम सात बजे अपराधियों ने ताबड़तोड़ गोली मार कर हत्या कर दी तो मंत्री जी शब्दों के सहारे जनता को ये जानकारी देना चाह रहे थे कि रूपेश की हत्या पर हम भी संवेदनशील और मर्माहत हैं. लेकिन जरा मंत्री जी के शब्दों में निर्ममता का क्लाइमेक्स देखिए कि जिस नौजवान की सरेआम हत्या से पूरे बिहार में सनसनी मच गई वहां मंत्री जी को यह सिर्फ असामयिक निधन नजर आया.  लगता है कि सुशासन पर पर्दा डालने के चक्कर में इन्होंने जमीर को भी गिरवी रख दी है। भला बताइए तो.... खुलेआम हत्या और असामयिक निधन में इन्हें फर्क नजर नहीं आ रहा। इसी का परिणाम रहा कि जैसे ही उन्होंने सोशल मीडिया पर रूपेश के क्रुरतम हत्या पर आसामयिक निधन लिखकर सुशासन के चेहरा को बचाने की कोशिश की वैसे ही ट्वीटर और फेसबुक पर लोगों ने मंत्री जी का पानी उतार दिया। 

देखिए मंत्री जी ने अपने ट्वीटर पर क्या लिखा



एक अन्ने मार्ग में रहने वाले मठाधीश अपराधियों को दे रहे संरक्षण

राजद के प्रवक्ता शक्ति सिंह यादव ने बिहार की सरकार पर बड़ा हमला बोला है। उन्होंने कहा कि जंगलराज के भी कुछ कानून होते हैं,लेकिन यहां तो कोई कानून ही नहीं है। उन्होंने कहा कि बिहार के लोग क्राइम से कराह रहे हैं. बिहार आतंकराज के साये में हैं,तंत्र अपराधियों के सामने घुटने टेक दिये हैं.राजद प्रवक्ता ने सीधा वार करते हुए कहा कि एक अन्ने मार्ग में रहने वाले मठाधीश अपराधियों को संरक्षण दे रहे हैं. ऐसे में क्राइम कंट्रोल कैसे होगा?

दो संदिग्‍धों को हिरासत में ले पूछताछ कर रही पुलिस

घटना के बाद पूरे पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया। हाई प्रोफाइल मर्डर के बाद पुलिस के आलाधिकारी मौके पर पहुंचे। पटना आईजी ने एसआईटी का गठन किया है .आइजी संजय सिंह ने अपराधियों की गिरफ्तारी के लिए स्‍पेशल टीम गठित कर दी है। पुलिस घटना के कारणों का पता लगाने में जुट गई है। घटना के पीछे पुरानी दुश्‍मनी की आशंका व्‍यक्‍त की जा रही है। इधर, पटना पुलिस हत्‍याकांड की जानकारी जुटाने में लगी है। देर रात दो संदिग्धों को हिरासत में  लिया गया है और उससे पूछताछ की जा रही है।

मंगलवार की शाम की घटना

 इंडिगो के मैनेजर रूपेश सिंह मंगलवार की देर शाम पटना एयरपोर्ट से अपनी कार से घर लौट रहे थे कि शास्त्रीनगर थाना क्षेत्र के पुनाईचक में उनके अपार्टमेंट के सामने ही ताबड़तोड़ फायरिंग कर उन्‍हें मौत की नींद सुला दिया गया। पुलिस ने वारदात तके सुपारी किलर के शामिल होने की आशंका जताई है। सीसीटीवी फुटेज से स्‍पष्‍ट हुआ है कि अपराधी 20 सेकेंड में ही वारदात को अंजाम देकर निकल गए।उस वक्‍त अपार्टमेंट का गार्ड वहां मौजूद नहीं था। गोली की आवाज सुनकर लोग दौड़े। उन्‍हें आनन-फानन में  पारस अस्‍पताल ले जाया गया, जहां डॉक्‍टरों ने मृत घोषित कर  दिया। इस बीच मृतक रूपेश सिंह की पत्‍नी की तबीयत बिगड़ गई है। उनका पटना के अस्‍पताल में इलाज चल रहा है।



Find Us on Facebook

Trending News