सुपौल : आपसी विवाद में दो पक्षों के बीच जमकर मारपीट, पांच लोग गंभीर रूप से जख्मी

सुपौल : आपसी विवाद में दो पक्षों के बीच जमकर मारपीट, पांच लोग गंभीर रूप से जख्मी

SUPAUL : जिले के छातापुर थाना क्षेत्र के रजवाड़ा पावर ग्रिड के समीप शनिवार की सुबह भूमि विवाद को लेकर दो पक्षों के बीच जमकर मारपीट हुई. इस घटना मेंं पांच लोग गम्भीर रूप से जख्मी हो गए. सभी जख्मियों का उपचार छातापुर पीएचसी में चल रहा है. वही पीड़ित पक्ष का कहना है कि मो. निजाम, मो इस्माइल सहित दर्जन भर लोगों के द्वारा मारपीट कर जख्मी करने के बाद उनके घर में आग लगा दिया. इस आगजनी में तीन घर पूरी तरह जलकर खाक हो गया. जिसके बाद स्थानीय लोगों द्वारा मारपीट से लेकर आगजनी तक की घटना की सूचना स्थानीय थाना को दिया. इसके बावजूद थाना से महज  एक किलोमीटर की दूरी पर ना दो घंटे तक ना तो पुलिस पहुंची और न थाना से  मिनी दमकल. तबतक तीन घर सहित लाखों की सम्पति जलकर खाक हो गये. 

जिसके बाद आक्रोशित लोगों नें एसएच 91 जदिया बलुआ पथ को लगातार दो घंटे तक जाम कर पुलिस के खिलाफ नारेबाजी शुरू कर दी. जाम हटाने पहुँचे थानाध्यक्ष अभिषेक अंजन को आक्रोशित लोगो ने घेरकर बंधक बनाये रखा. इधर सड़क जाम रहने से सड़क के दोनो साइड वाहनों की लम्बी कतार लग गई. जिसके कारण वाहन चालकों सहित यात्रियों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ा. पीड़ित मो रहमान ने बताया कि मारपीट औऱ आगजनी के दौरान ही छातापुर पुलिस को स्थानीय लोगों द्वारा कई बार सूचना दी गई, लेकिन जबतक मेरा तीनों घर जलकर खाक नहीं हो गया. तबतक घटना स्थल पर पुलिस नही पहुंची. उन्होंने यह भी आरोप लगाया है कि पुलिस दूसरे पक्ष से मोटी रकम लेकर पहले तो एक सप्ताह पूर्व छातापुर थाना के सअनि पंकज कुमार द्वारा मेरे मुख्य रास्ता को बंद करवा दिया गया, जिससे हमलोगों को घर से बाहर निकलना मुश्किल हो गया था. उन्होंने बताया कि शनिवार की सुबह मेरा एक बच्चा टट्टी खोलकर मुख्य सड़क पर जा रहा था. उसी बीच दूसरे पक्ष के दर्जन भर लोगो ने हरवे हथियार के साथ मेरे दरवाजे पर पहुंचकर हमलोगों के साथ मारपीट कर जख्मी कर दिया.  इस मारपीट की घटना में 50 वर्षीय मो सुलेमान, 55 वर्षीय मो उस्मान, 30 वर्षीय मो क्यामुल, 19 वर्षीय मो अब्बुतल्हा गंभीर रूप से जख्मी हो गए हैं. पीड़ित पक्षो ने बताया कि पिछले छः महीनों से छातापुर थाना के जनता दरबार मे यह मामला चल रहा था. अगर इस मामले का निपटारा पूर्व में निपटारा कर दिया गया होता होता तो आज यह घटना नहीं होती.  

हैरत की बात तो यह है कि छातापुर पुलिस के लिए महज एक किलोमीटर की दूरी तय करने में दो घन्टा समय लग गया. जबकि भीमपुर थाना से मिनी दमकल घटना स्थल जैसे ही पहुंचा. उसी क्रम में छातापुर थाना से भी मिनी दमकल स्थल पर पहुंचा, जिसमें चालक अमलेश कुमार अकेले था. जबकि उस मिनी दमकल पर कार्यरत भवेश कुमार झा प्रतिनयुक्त है. लेकिन भवेश झा डियूटी से गायब था. चालक के अकेले रहने के कारण दमकल को चालू करने और पानी छोड़ने में काफी देरी हो गया. वहीं भीमपुर से आए दमकल सवार तीन लोगो ने त्वरित पहुँचकर आग बुझाने का प्रयास करने लगा. घण्टो बाद जब झा अपने घर से घटना स्थल पर पहुँचा. स्थानीय लोगो में जहां थानाध्यक्ष के विरुद्ध नाराजगी थी, वहीं स्थानीय दमकल कर्मी झा के प्रति भी लोगो मे काफी आक्रोश का माहौल देखा गया. वही मामले की सूचना पाते ही एसडीपीओ गणपति ठाकुर स्थल पर पहुंचकर घटना का जायजा लेते हुऐ थानाध्यक्ष सहित सीओ को तत्काल मामले का निबटारा कराने को कहा औऱ थानाध्यक्ष को तुरंत आवेदन के आलोक मेंं त्वरित कारवाई करने का निर्देश दिया. 

सुपौल से पप्पू आलम की रिपोर्ट


Find Us on Facebook

Trending News