नालंदा में दहेज की खातिर जिन्दा जलाई गयी विवाहिता, आरोपियों की तलाश में जुटी पुलिस

नालंदा में दहेज की खातिर जिन्दा जलाई गयी विवाहिता, आरोपियों की तलाश में जुटी पुलिस

NALANDA : बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जहाँ दहेज़, बाल विवाह और जल,जीवन,हरियाली को लेकर समाज सुधार अभियान चला चुके हैं। वहीँ उनके गृह जिले में ही महिलाएं दहेज़ के लिए जान गंवा रही है। इसी कड़ी में करायपरसुराय थाना क्षेत्र के डियावां गाँव में दहेज की खातिर विवाहिता को जिंदा जलाने का मामला प्रकाश में आया है। फिलहाल महिला पीएमसीएच में जिंदगी और मौत की जंग लड़ रही है। जख्मी नीतीश कुमार की 22 वर्षीया पत्नी अनिता देवी बताई जा रही है। 

इस मामले को लेकर जख्मी के भाई अजीत कुमार ने बताया कि साल 2018 में उसकी बहन की शादी हुई थी। शादी के कुछ साल बाद ही दहेज के लिए बार-बार उसे प्रताड़ित किया जा रहा था। रविवार की सुबह उसके पति और ससुराल के लोगों ने उसके ऊपर किरोसीन तेल छिड़ककर आग लगा दिया। चीख-पुकार सुन जब आसपास के ग्रामीण दौड़े तो वे लोग वहां से फरार हो गए। 

जख्मी हालत में विवाहिता को ग्रामीणों की मदद से करायपरसुराय अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां से उसकी नाजुक हालत को देखते हुए पटना रेफर कर दिया गया। ग्रामीणों की सूचना पर जब मायके के लोग वहां पहुंचे। तब तक सभी आरोपी गांव छोड़कर फरार हो गए थे। थानाध्यक्ष नरेंद्र कुमार ने बताया कि पीड़िता द्वारा पति और ससुराल परिवार पर जलाने का आरोप लगाते हुए आवेदन दिया गया है। मामले की छानबीन की जा रही है।

नालंदा से राज की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News