छठी बार वर्ल्ड चैंपियन बनीं मैरीकॉम, आंसुओं के साथ कहा- मैं भारत को स्वर्ण पदक ही दे सकती हूं

छठी बार वर्ल्ड चैंपियन बनीं मैरीकॉम, आंसुओं के साथ कहा- मैं भारत को स्वर्ण पदक ही दे सकती हूं

N4N DESK: खेल की दुनिया से भारते के लिए एक अच्छी खबर है. भारत की दिग्गज मुक्केबाज एमसी मेरीकॉम ने छठा वर्ल्ड बॉक्सिंग चैंपियनशिप का खिताब अपने नाम किया है. मेरीकॉम ने शनिवार को  वर्ल्ड बॉक्सिंग चैंपियनशिप के 10वें संस्करण में 48 किलोग्राम भारवर्ग का खिताब अपने नाम कर लिया. मेरीकॉम ने फाइनल में यूक्रेन की हना ओखोटा को 5-0 से हराकर सोना अपने नाम किया.

दुनिया ने देखा मैरीकॉम का दम

आपको बता दें अब मैरीकॉम 6 वर्ल्ड चैंपियनशिप जीतने वाली दुनिया की पहली खिलाड़ी बन गई हैं. इससे पहले मैरी कॉम ने साल 2002, 2005, 2006, 2008 और साल 2010 में विश्व चैंपियनशिप का खिताब अपनी झोली में डाला था. मैरी कॉम ने एक खिताब 45 किग्रा, तीन वर्ल्ड खिताब 46 किग्रा भार वर्ग और आखिरी दो खिताब 48 किग्रा वजन वर्ग मे जीता है

भावुक होकर क्या बोली मैरीकॉम

भारत के लिए खेलना और तमाम दुख को झेलते हुए दुनिया में नंबर वन होना बहुत बड़ी बात है. आपको बता दे रिकॉर्ड जीत के बाद मैरी कॉम बहुत ही भावुक हो गईं. इस चैंपियन खिलाड़ी ने आंसुओं के साथ कहा कि मैं भारत को स्वर्ण पदक के अलावा और कुछ नहीं दे सकती. साथ ही, उन्होंने रिकॉर्ड छठी बार चैंपियनशिप जीत के बाद ओलिंपिक खेलों में ज्यादा भार वर्ग में भाग लेने के संघर्ष और पीड़ा को भी बयां किया.

Find Us on Facebook