विशिष्ट दत्तक ग्रहण संस्थान के दो माह के लावारिस मासूम ने तोड़ा दम, अधिकारियों ने साधी चुप्पी

विशिष्ट दत्तक ग्रहण संस्थान के दो माह के लावारिस मासूम ने तोड़ा दम, अधिकारियों ने साधी चुप्पी

NAWADA  : अधिकारियों की उदासीनता के चलते शनिवार को दो माह के लावारिस मासूम बच्चे ने दम तोड़ दिया. सदर अस्पताल में इलाज के दौरान उसकी मौत हो गई. बताया जाता है कि बच्चा किसी बीमारी से ग्रसित था. जब तबीयत काफी बिगड़ गई तो शनिवारको अहले सुबह सदर अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड में भर्ती कराया गया. इस दौरान अस्पताल में भी बच्चे पर पूरा ध्यान नहीं दिया गया. यहां तक बीमार बच्चे का सुध लेने के लिए कोई अधिकारी भी नहीं पहुंचे. 

अंतत:  बच्चे ने दम तोड़ दिया. बताया जाता है कि दो फरवरी को गया से बच्चे को नवादा लाया गया था. जहां विशिष्ट दत्तक ग्रहण संस्थान में बच्चे का पालन-पोषण हो रहा था. मिली जानकारी के अनुसार बच्चा गया जिले के बेलागंज थाना क्षेत्र में मिला था. जिसके बाद बाल कल्याण समिति गया ने बच्चे को नवादा भेजा था. इधर, विशिष्ट दत्तक ग्रहण संस्थान के प्रतिनिधियों से मिली जानकारी के अनुसार बच्चे को बुखार था. जिसके बाद उसे सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया था. लेकिन उसे नहीं बचाया जा सका. बच्चे की मौत के बाद शव का पोस्टमार्टम कराया गया.  

सबसे बड़ी लापरवाही तो उन अधिकारियों की है जिनको यह जिम्मेदारी दी जाती है कि बच्चा किस प्रकार से रहे. लेकिन कहीं ना कहीं वरीय अधिकारी की लापरवाही से ही बच्चे की मौत हो गई. हालांकि इस मामले पर अधिकारी से बात करने की कोशिश की गयी तो उनसे संपर्क नहीं हो पाया. 

नवादा से अमन सिन्हा की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News