JDU विधायक मेवालाल चौधरी का राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार, छोटे बेटे को आस्ट्रेलिया से भारत लौटने की नहीं मिली इजाजत

JDU विधायक मेवालाल चौधरी का राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार, छोटे बेटे को आस्ट्रेलिया से भारत लौटने की नहीं मिली इजाजत

PATNA: नीतीश कैबिनेट में एक दिन के मंत्री और जेडीयू विधायक के विधायक मेवालाल चौधरी का आज राजकीय सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया। तारापुर से जेडीयू विधायक मेवालाल चौधरी की सोमवार के दिन कोरोना संक्रमण से मौत हो गई थी। तब से उऩका शव पटना के एक अस्पताल में रखा गया था। बेटा के आज सुबह विदेश से पटना लौटने के बाद उनका अँतिम संस्कार पटना के गुलबी घाट पर किया गया। गुलबी घाट पर अंतिम संस्कार के दौरान जदयू के प्रदेश अध्यक्ष उमेश कुशवाहा , मंत्री सम्राट चौधरी पटना डीएम और एसएसपी समेत अन्य लोग मौजूद थे।

बता दें मेवालाल चौधरी के बेटे कैलिफोर्निया में रहते थे। पिता की मौत की खबर जैसे ही लगी वे आनन-फानन में पटना पहुंचे , आज सुबह पटना पहुंचने के बाद  मेवालाल चौधरी के बड़े पुत्र रवि प्रकाश ने मुखाग्नि दी। हालांकि वे अपने पिता का अँतिम दर्शन नहीं कर सके। क्यों कि कोरोना प्रोटकॉल के तहत पिता का शव पूरी तरह से पैक था। अँतिम संस्कार के समय भी शव पूरी तरह से पैक रहा। इस वजह से वे मुंह नहीं देख सके। प्रशासन ने कोरोना संक्रमण के मद्देनजर पैकेट खोलने की अनुमति नहीं दी। 

 हालांकि मेवालाल चौधरी के दूसरे पुत्र मुकुल भास्कर पिता के अंतिम संस्कार में शामिल नहीं हो सके। वे ऑस्ट्रेलिया में रहते हैं. कोरोना संक्रमण की वजह से उन्हें वापस भारत आने की अनुमति नहीं मिल सकी. बड़े पुत्र रवि प्रकाश के पटना पहुंचने पर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भी उनसे बात की और उन्हें सांत्वना दी .बता दें मेवालाल चौधरी का  19 अप्रैल सोमवार को 4.30 में पटना के पारस अस्पताल में मौत हो गई थी। दोनों बेटे विदेश में रहते थे लिहाजा उस दिन उनका अंतिम संस्कार नहीं हो सका था। बेटा के पहटना पहुंचने के बाद राजकीय सम्मान के साथ आज उऩका अंतिम संस्कार हुआ।



Find Us on Facebook

Trending News