रेलवे मिशन मोड में कर रहा काम, बिहार की 37 रेल परियोजनाओं में प्रवासी कामगारों को मिला रोजगार

रेलवे मिशन मोड में कर रहा काम, बिहार की 37 रेल परियोजनाओं में प्रवासी कामगारों को मिला रोजगार

Hajipur : बिहार की 37 रेल परियोजनाओं में प्रवासी कामगारों को रोजगार मिला हुआ है। वहीं अबतक 262 करोड़ रुपये का भुगतान इन कामगारों के बीच किया जा चुका है। यह जानकारी पूर्व मध्य रेल के मुख्य जनसंपर्क अधिकरी राजेश कुमार ने दी है। 

उन्होंने बताया कि लॉकडाउन के बीच अपने-अपने गांव लौट चुके प्रवासी श्रमिकों को रोजगार प्रदान करने के लिए भारतीय रेल मिशन मोड पर काम कर रहा है। बड़े-बड़े शहरों में अपनी आजीविका में लगे प्रवासी मजदूरों की घर वापसी के बाद पूर्व मध्य रेल भी द्वारा ऐसे तमाम प्रवासी श्रमिकों को ‘‘गरीब कल्याण रोजगार अभियान‘‘ के तहत् स्थानीय स्तर पर रोजगार के अवसर पर मुहैया कराए जा रहे हैं। ऐसे तमाम प्रवासी श्रमिकों को नई लाईन, दोहरीकरण, आमान परिवर्तन, विद्युतीकरण एवं रेल अवसंरचना के विकास से जुड़े कार्यों में इन्हें लगाया गया है ताकि ये अपनी आजीविका चला सकें । 

उन्होंने कहा है कि  ‘‘गरीब कल्याण रोजगार अभियान‘‘ के तहत् बिहार राज्य के 32 जिलों के प्रवासी श्रमिकों को रोजगार के अवसर उपलब्ध कराए जा रहे हैं। योजना के सफल कार्यान्वयन हेतु इन जिलों के लिए एक-एक को-ऑर्डिनेटर नियुक्त किया गया है। बिहार राज्य की कुल 37 रेल परिचोजनाओं में प्रवासी कामगारों को लगाया गया है।  20 जून से 07 अगस्त तक प्रवास कामगारों के लिए 1 लाख 35 हजार 425 मानव दिवस के बराबर रोजगर का सृजन करते हुए 262.82 करोड़ रूपया का भुगतान किया गया। 

राजेश कुमार ने कहा है कि दोहरीकरण परियोजना के तहत् समस्तीपुर-दरभंगा, कटरिया-कुरसेला, सगौली- बाल्मिकीनगर, मुजफ्फरपुर-सगौली, रमना-सिंगरौली, करैला रोड-शक्तिनगर सहित 06 दोहरीकरण परियोजनाओं में प्रवासी श्रमिकों को उनके कौशल के अनुसार रोजगार दिए जा रहे हैं। 

इसी तरह खगड़िया- कुशेश्वर स्थान, कोसी ब्रिज, हाजीपुर-सगौली, सकरी- हसनपुर, छपरा-मुजफ्फरपुर, अररिया-सुपौल, बिहारशरीफ- बरबीघा, इस्लामपुर- नटेसर, कोडरमा-तिलैया सहित 09 नई लाइन परियोजना एवं सकरी- लौकहाबाजार- निर्मली तथा सहरसा-फारबिसगंज एवं जयनगर-दरभंगा-सीतामढी- नरकटियागंज- भिखनाठोढ़ी सहित 02 आमान परिवर्तन कार्य में प्रवासी श्रमिक अपनी भागीदारी सुनिश्चित कर रहे हैं । इसके अलावा विद्युतीकरण कार्यों में प्रवासी कामगारों के रोजगार मिल रहे हैं। 

इन परियोजनाओं के लिए पर्याप्त धनराशि उपलब्ध कराए गए हैं ताकि निर्माण कार्य अथवा अवसंरचना में विकास से जुड़े सभी कार्य अनवरत चलता रहे ।  

उन्होंने बताया कि ‘‘गरीब कल्याण रोजगार अभियान‘‘ मिशन मोड के तहत् बिहार राज्य के 32 जिलों के प्रवासी श्रमिकों को रोजगार मुहैया कराए जा रहे हैं। इन 32 जिलों में पूर्व मध्य रेल क्षेत्राधिकार के 23 जिले शामिल हैं। दानापुर मंडल के अन्तर्गत आने वाले  06, पंडित दीन दयाल उपाध्याय मंडल के 04, समस्तीपुर मंडल के 09 तथा सोनपुर मंडल के 04 जिले हैं। इसके अलावा बिहार राज्य में पड़ने वाले पूर्वोत्तर सीमांत रेलवे के 04, पूर्वोत्तर रेलवे के 03 तथा पूर्व रेलवे के 02 जिले के प्रवासी श्रमिकों को भी ‘‘गरीब कल्याण रोजगार अभियान‘‘ के तहत रोजगार के अवसर उपलब्ध कराए जा रहे हैं। 

देवांशु प्रभात की रिपोर्ट

Find Us on Facebook

Trending News