लखटकिया खास 'पेन' की बात 'आउट' होने पर BJP विधायक को लगा बुरा, प्रमाण के बाद भी तल्ख तेवर में कहा- बिना पूछे कैसे लिख दी खबर?

 लखटकिया खास 'पेन' की बात 'आउट' होने पर BJP विधायक को लगा बुरा, प्रमाण के बाद भी तल्ख तेवर में कहा- बिना पूछे कैसे लिख दी खबर?

PATNA: बिहार विधानसभा के चालू सत्र में लखटकिया कलम गिरी मिली . 10 दिन पहले विधान सभा अध्यक्ष विजय सिन्हा ने खुद सदन में इसकी जानकारी दी थी । उन्होंने सदन में बताया था कि उनके कार्यालय में मोंट ब्लैंक कंपनी की एक कलम रखी है। यह किसी सदस्य की है जो गिर गई थी। विस की सफाई के दौरान एक कर्मचारी को यह कलम मिली है। यह कलम जिनकी भी हो आकर मेरे कार्यालय से ले जायें. विस अध्यक्ष द्वारा सदन में दी गई इस सूचना के बाद पहले दिन तो लखटकिया कलम का कोई दावेदार नहीं आया। कुछ दिनों के बाद इस कलम की दावेदार महिला विधायक श्रेयसी सिंह सामने आईं । खुद बीजेपी विधायक श्रेयसी सिंह ने इसकी जानकारी दी थी कि वो कलम मेरी थी और पुरस्कार में मिली थी। न्यूज4नेशन की खबर के बाद श्रेयसी सिंह को परेशानी हो गई है। उन्होंने कहा कि बिना मेरे पूछे आपने कैसे खबर लिख दी? क्या यही पत्रकारिता है...।

लखटकिया कलम की बात सार्वजनिक पर पढ़ाने लगीं पत्रकारिता की पाठ

न्यूज4नेशन ने जब सबसे पहले खबर बताई कि विस में गिरी लखटकिया कलम किसी दूसरे की नहीं बल्कि जमुई की भाजपा विधायक श्रेयसी सिंह की थी। शुक्रवार को विधायक श्रेयसी सिंह से विस परिसर में जब मीडिया ने  जब खास पेन के बारे में सवाल किया तो जवाब था.... जी वो पेन मेरा था,मिस प्लेस हो गया था। उस पेन को हमने जीता था, निशानेबाजी की प्रतियोगिता में. जाहिर सी बात है वो पेन मेरे लिये खास था। श्रेयसी सिंह ने आगे कहा कि इस पेन को लेकर ऐसी तो कोई चर्चा नहीं थी जितना आपलोग चर्चा कर रहे हैं.......। जब हमने यह खबर लिखी इसके बाद बाकी के तमाम मीडिया संस्थानों में भी लखटकिया कलम के दावेदार की खबर लिखी और चलाई।लेकिन बीजेपी विधायक इस खुलासे से नाराज हो गईं हैं।

ठोस सबूत के बाद चली खबर,जरा वीडियो सुन लीजिएगा

मिस विधायक को बता दें कि न्यूज4नेशन ने मोंट ब्लैंक कलम से संबंधित खबर ठोस सबूत और आपके बयान के बाद चलाई थी। इसके बाद भी अगर आपको आपत्ति है तो हम कुछ नहीं कर सकते। जहां तक पत्रकारिता की बात है तो हम अपनी सीमा को बखूबी समझते हैं. वैसे आप माननीय हैं कुछ भी ज्ञान देने के लिए स्वतंत्र हैं. 

 काफी महंगा ब्रांड है मोंट ब्लैंक

मोंट ब्लैंक इंटरनेशनल ब्रांड है। जर्मनी के हैम्बर्ग में बनी इन कलमों की कीमत भारत में 30 हजार से लेकर लाखों में है। भारत में PM नरेंद्र मोदी इन इसी ब्रांड की कलम का इस्तेमाल करते हैं। भारत में यह कलम इम्पोर्ट कर मंगाई जा सकती है।

Find Us on Facebook

Trending News