सिमुलता की तर्ज पर अब बिहार के हर जिले में खुलेंगे मॉडल आवासीय स्कूल, छठी कक्षा से शुरू होगी पढाई, ऐसे मिलेगा दाखिला

सिमुलता की तर्ज पर अब बिहार के हर जिले में खुलेंगे मॉडल आवासीय स्कूल, छठी कक्षा से शुरू होगी पढाई, ऐसे मिलेगा दाखिला

पटना. बिहार में शिक्षा व्यवस्था को उन्नत करने के लिए बड़ी कवायद की जा रही है. राज्य के प्रसिद्ध सिमुलतला स्कूल की तर्ज पर अब हर जिले में मॉडल आवासीय स्कूल खुलेंगे. अगर सब कुछ योजना अनुरूप रहा तो आगामी शैक्षणिक सत्र से आधा दर्जन जिलों में इसकी शुरूआत हो जाएगी. दरअसल, बिहार की प्रतिभा को निखरने के लिए संसाधन और संरचना उपलब्ध कराने के मकसद से सिमुलतला की तर्ज पर हर जिले में खुलेंगे मॉडल आवासीय स्कूल शुरू करने की योजना बनाई गई है. 

मौजूदा समय में सिमुलतला स्कूल बिहार में विशिष्ट स्थान रखता है. यहां से हर साल बड़ी संख्या में मेधावी बच्चे निकलते हैं. पिछले वर्षों के दौरान कई बार ऐसे मौके आए जब राज्य में 10वीं बोर्ड के टॉपर में सिमुलतला के विद्यार्थी शामिल रहे. यहां तक कि इस विद्यालय को एक मॉडल के रूप में मानकर देश के कई अन्य राज्यों में भी गुणवत्ता पूर्ण शिक्षा उपलब्ध कराने के लिए इसी अनुरूप स्कूल शुरू किए गए हैं. 

बिहार सरकार ने सिमुलतला स्कूल की महता को देखते हुए अब उसी तर्ज पर बिहार के सभी जिलों में ऐसे आवासीय स्कूल शुरू करने की कवायद की है. मौजूदा समय में सिमुलतला स्कूल में कक्षा 6 में नामांकन प्रतियोगिता परीक्षा के आधार पर होती है. उसी तरह अन्य जिलों में भी खुलने वाले स्कूल में कक्षा 6 से पढाई की शुरुआत होगी. इसके लिए में नामांकन प्रतियोगिता परीक्षा के आधार पर ही होना है. 

इन स्कूलों में 12 वीं कक्षा तक की यहां पढ़ाई होगी. स्कूल में पढने वाले बच्चों के लिए शिक्षक एवं छात्र का अनुपात आदर्श होगा यानी 30 स्टूडेंट पर एक शिक्षक होंगे. बच्चों को यूनिफार्म, किताब, कॉपी से लेकर सभी आवश्यक सुविधाएं सरकार मुहैया कराएगी. प्रस्तावित मॉडल विद्यालय आश्रम पद्धति आधारित आवासीय प्रकृति का होगा. 

कक्षा 6 में कुल 120 बच्चों का दाखिला होगा. इसमें 60 लड़के और 60 लड़कियां होंगी. दाखिला प्रतियोगी परीक्षा के आधार पर होगा. इसमें पांचवीं कक्षा के लिए निर्धारित पाठयक्रम के आधार पर प्रवेश परीक्षा के प्रश्न पूछे जाएंगे. प्रारंभिक परीक्षा 150 अंकों के होंगे. इसमें हिन्दी 30, विज्ञान 25, सामाजिक विज्ञान 25, गणित 40 और अंग्रेजी 30 अंकों के होंगे. समय 2.30 घंटे का होगा. वहीं मुख्य प्रवेश परीक्षा में गणित 100 अंक, बौद्धिक क्षमता 50, हिन्दी 40, अंग्रेजी 40, विज्ञान 40 और सामाजिक विज्ञान 30 अंकों के होंगे। मुख्य परीक्षा के प्रथम पाली में 150 अंकों में 100 अंक गणित दीर्घ उत्तरीय होग.। 50 अंकों की बौद्धिक क्षमता खंड भी होगा.


Find Us on Facebook

Trending News