मोदी सरकार ने भरा एक साल से रिक्त पद, सुरेश पटेल बने केंद्रीय सतर्कता आयुक्त, राष्ट्रपति मुर्मू ने दिलाई शपथ

मोदी सरकार ने भरा एक साल से रिक्त पद, सुरेश पटेल बने केंद्रीय सतर्कता आयुक्त, राष्ट्रपति मुर्मू ने दिलाई शपथ

DESK. केंद्रीय सतर्कता आयुक्त (सीवीसी) के रूप में सुरेश एन पटेल ने बुधवार को शपथ ग्रहण की। यह पद एक साल से रिक्त था। कार्यवाहक सीवीसी के रूप में इस साल जून से सेवाएं दे रहे पटेल को यहां राष्ट्रपति भवन में राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू ने केंद्रीय सतर्कता आयोग के प्रमुख पद की शपथ ग्रहण कराई। 

राष्ट्रपति भवन की ओर से बुधवार को जारी विज्ञप्ति में कहा गया, ‘‘राष्ट्रपति भवन में आज पूर्वाह्न 10 बजे आयोजित एक समारोह में सुरेश एन पटेल को केंद्रीय सतर्कता आयुक्त के रूप में शपथ ग्रहण कराई गई। उन्होंने राष्ट्रपति के समक्ष पद की शपथ ली।'' इस समारोह में प्रधानमंत्री मोदी और उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू भी उपस्थित थे।

आंध्र बैंक के पूर्व प्रबंध निदेशक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी पटेल को अप्रैल 2020 में सतर्कता आयुक्त नियुक्त किया गया था। पूर्व भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस) अधिकारी संजय कोठारी ने पिछले साल 24 जून को सीवीसी के रूप में अपना कार्यकाल पूरा किया था। केंद्रीय सतर्कता आयोग का नेतृत्व केंद्रीय सतर्कता आयुक्त करता है और इसमें दो सतर्कता आयुक्त हो सकते हैं। वर्तमान में आयोग में कोई भी सतर्कता आयुक्त नहीं है। प्रधानमंत्री की अध्यक्षता में तीन सदस्यीय चयन पैनल ने सीवीसी और सतर्कता आयुक्तों के संबंध में निर्णय लेने के लिए जुलाई में बैठक की थी। 

पैनल के अन्य दो सदस्य केंद्रीय गृह मंत्री और लोकसभा में विपक्ष के नेता हैं। पैनल ने बैठक के दौरान सीवीसी के रूप में पटेल की नियुक्ति को मंजूरी दी। इसने पूर्व खुफिया ब्यूरो प्रमुख अरविंद कुमार और पूर्व नौकरशाह प्रवीण कुमार श्रीवास्तव की सतर्कता आयुक्त के रूप में नियुक्ति को भी मंजूरी दी। कुमार ने इस साल 30 जून को आंतरिक सुरक्षा खुफिया एजेंसी के प्रमुख के रूप में अपना कार्यकाल पूरा किया।


Find Us on Facebook

Trending News