मोदी सरकार ने दिया किसानों को दिवाली गिफ्ट, गेहूं और दलहनों की एमएसपी बढ़ाई

मोदी सरकार ने दिया किसानों को दिवाली गिफ्ट, गेहूं और दलहनों की एमएसपी बढ़ाई

मोदी सरकार ने किसानों को दिवाली गिफ्ट दिया है। केंद्र सरकार ने रबी सीजन की फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) की नई दरों का ऐलान कर दिया है। बुधवार को हुई केंद्रीय कैबिनेट की बैठक में रबी फसलों के नए समर्थन मूल्यों पर फैसला लिया गया। गेहुं और दलहनों के न्यूनतम समर्थन मूल्य में इजाफा किया गया है।

 सरकार ने गेहूं के समर्थन मूल्य में 85 रुपये/क्विंटल का इजाफा किया है। सरकार के इस फैसले के बाद गेहूं की न्यूनतम समर्थन मूल्य 1840 रुपये से बढ़कर 1925 रुपये/क्विंटल हो गया है। दलहनों के एमएसपी में भी इजाफा किया गया है।बाजरे का समर्थन मूल्य 1440 रुपये से बढ़ाकर 1525 रुपये/क्विंटल, मसूर का दाम 4400 रुपये से बढ़ाकर 4800 रुपये और सरसों की सरकारी खरीद कीमत 4200 रुपये क्विंटल से बढ़ाकर 4425 रुपये/क्विंटल कर दी गई है।

चना का न्यूनतम समर्थन मूल्य 255 रुपये बढ़ाकर 4,875 रुपये प्रति क्विंटल किया गया है। इससे पिछले साल यह 4,620 रुपये प्रति क्विंटल था। रबी फसलों के समर्थन मूल्य बढ़ाने के फैसले से सरकार पर 3000 करोड़ रुपये का अतिरिक्त बोझ बढ़ेगा। 

रबी फसलों के लिए एमएसपी की घोषणा कृषि लागत एवं मूल्य आयोग (सीएसीपी) की न्यूनतम समर्थन मूल्य के बारे में की गई सिफारिशों के अनुरूप है। रबी मौसम की फसलों में गेहूं, चना, सरसों मुख्य फसल होती है।इनका विपणन अप्रैल के बाद होता है।


Find Us on Facebook

Trending News