स्मार्ट फोन से की जाएगी बिहार के सड़कों की मॉनिटरिंग, सड़कों की हालत से सीधे विभाग को मिलेगी जानकारी

स्मार्ट फोन से की जाएगी बिहार के सड़कों की मॉनिटरिंग, सड़कों की हालत से सीधे विभाग को मिलेगी जानकारी

PATNA : बिहार अब डिजिटल होता जा रहा है. क्यूंकि मुख्यमंत्री डिजिटल हेल्थ योजना और पटना में स्मार्ट पार्किंग ऐसी कई योजनाओं के बाद अब सरकार स्मार्टफ़ोन के जरिए सड़कों की देखभाल करेगी. बिहार में बेहतर रोड व्यवस्था के लिए बिहार सरकार के पथ निर्माण विभाग की ओर से कंट्रोल एंड कमांड सेंटर बनाया गया है. विभाग के मंत्री नितिन नवीन ने उद्घाटन के मौके पर कहा कि 13 हजार किलोमीटर सड़क की मॉनिटरिंग के लिए तकनीक का सहारा लिया जा रहा है. इस तकनीक की मदद से बिहार के सड़को की निगरानी की जा सकेगी.  निगरानी का काम स्मार्टफ़ोन के एप्प के जरिए किया जाएगा. 

3 दिन से लेकर 1 महीने के अंदर होंगी सडकों की मरम्मत 

नितिन नवीन ने बताया कि इस कमांड कंट्रोल सेंटर के निर्माण से टूटी-फूटी सड़कों की मरम्मत करने में आसानी होगी. उन्होंने कहा की 3 दिन से लेकर 1 महीने के अंदर उन टूटी-फूटी सड़कों को बनाने से लेकर अन्य समस्याओं का समाधान किया जाएगा. सड़क समस्यायों को दूर करने के लिए सरकार ने रोड मेंटनेंस एप्लीकेशन की शुरुआत भी की है. यह एप्लीकेशन एंड्राइड तथा एप्पल आईओएस सहित सभी स्मार्टफोन पर काम करेगा. इस एप्लीकेशन पर सभी क्षेत्रीय पदाधिकारियों के द्वारा क्षेत्र निरीक्षण कर पथ की दिक्कतों को रियल टाइम फोटोग्राफ के साथ अपलोड किया जाएगा. अपलोड होते ही पथ के डिफेक्ट और अपलोड से संबंधित सूचनाएं, पथ निर्माण विभाग मुख्यालय विश्वेश्वरैया भवन स्थित नवनिर्मित कंट्रोल एंड कमांड सेंटर तक पहुंच जाएगी और इससे निपटने के लिए काम भी शुरू हो जाएगा.

उन्होंने बताया कि इस सिस्टम से सड़क पर पेड़ बढ़ने, व्हाइट लाइन मिटने तक की स्थिति भी देखी जा सकेंगी. नितिन नवीन ने बताया कि मुख्यालय स्तर पर मॉनिटरिंग होगी और साथ ही हर शिकायत को दूर किया जाएगा. इससे आम जनता के शिकायतों और समस्यायों को जल्द से जल्द दूर किया जाएगा.


Find Us on Facebook

Trending News