प्रदेश के 5000 से ज्यादा व्यापारियों पर गिरी गाज, रजिस्ट्रेशन किया गया रद्द

प्रदेश के 5000 से ज्यादा व्यापारियों पर गिरी गाज, रजिस्ट्रेशन किया गया रद्द

PATNA : प्रदेश के 5 हजार से ज्यादा व्यापारियों पर बड़ी गाज गिरी है। जीएसटी समय पर जमा नहीं करने वाले व्यापारियों पर जीएसटी विभाग ने सख्त कारवाई करते हुए 5520 वयापारिओं का निबंधन रद्द कर दिया है। इसके साथ ही 1893 लोगो को नोटिस दी गयी है। 

बताया जा रहा है कि इनमें उन व्यवसाइयों को टारगेट किया गया है जिसने छह महीने से रिटर्न फाइल नहीं किया है। साथ ही फर्जी सेल कम्पनियों के आधार पर जीएसटी चोरी और फर्जी इनवॉयस बनाकर गड़बड़ी किया है। इसी तरह 1893 व्यापारियों को नोटिस भी जारी किया गया है।

बता दें कि जीएसटी में गड़बड़ी करने वालों के खिलाफ पिछले वित्तीय वर्ष से ही जांच शुरू कर दी गयी थी। 5520 व्यापारियों का निबंधन रद्द किया है, उसमें 5062 ऐसे लोग है जिन्हें टैक्स नहीं भरने के एवज में पिछले साल ही नोटिस जारी किया गया था। अंततः जब इन लोगो ने टैक्स जमा नहीं किया तब इनका निबंधन रद्द कर दिया गया है। 

इस सम्बंध में जीएसटी कमिश्नर रणजीत कुमार ने बताया कि जीएसटी लागू होने के बाद राज्य में निबंधित व्यापारियों की संख्या में सवा लाख से बढ़कर तीन लाख से ऊपर हो गयी, लेकिन इनमें व्यापारियों का एक वर्ग ऐसा है जो टैक्स जमा ही नही करता या फिर दूसरा जीएसटी चोरी का रास्ता ढूंढ निकालता है। इसलिये ऐसे व्यापारियों को किसी कीमत पर बख्सा नहीं जाएगा। ऐसे व्यापारियों का निबंधन रद्द करने से लेकर मुकदमा करने की प्रक्रिया भी तेजी से शुरू कर दी गयी है।

Find Us on Facebook

Trending News